एर्दोगान पहुंचे बच्चों द्वारा क़ुरान-ए-पाक की तिलावत सुनने, दुनियाभर में वायरल ख़ूबसूरत नज़ारा

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो और फ़ोटो काफी वायरल हो रहा है जिसमें एर्दोगान कुछ छोटे स्कूली बच्चों से क़ुरान की तिलावत सुनते नज़र आ रहे है। यह बेहद ख़ूबसूरत नज़ारा मुस्लिमों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है।

आपको बताते चले कि, तुर्की के एक राजनेता हैं जो 2014 के बाद से तुर्की के 12 वें और वर्तमान राष्ट्रपति हैं। उन्होंने 2003 से 2014 तक प्रधान मंत्री के रूप में और 1994 से 1998 तक इस्तांबुल के मेयर के रूप में कार्य किया। उन्होंने न्याय और विकास की स्थापना की पार्टी (एकेपी) 2001 में, 2014 में राष्ट्रपति के पद के लिए चुनाव ल’ड़ने से पहले 2002, 2007 और 2011 में आम चुनाव जीत के लिए अग्रणी थे।

इस्ला’मवा’दी राजनीतिक पृष्ठभूमि से और एक आ’त्मनि’र्भर रूढ़िवादी लोकतांत्रिक के रूप में, उन्होंने सामाजिक रूढ़िवादी को बढ़ावा दिया है और उनके प्रशासन में उदार आर्थिक नीतियां अपनाई गयी हैं।

इस्लामिस्ट वेलफेयर पार्टी से इस्तांबुल के मेयर के रूप में 1994 में चुने जाने से पहले एर्दोगान ने कासिम्पाशा के लिए फुटबॉल खेला। 1998 में भाषण के दौरान सरकार के धार्मिक दृष्टिकोण को बढ़ावा देने वाली एक कविता को पढ़ने के लिए उन्हें राजनीतिक दफ्तर से प्रति’बंधि’त कर दिया गया था, और उन्हें चार महीने तक कै’द कर दिया गया था।