No menu items!
28.1 C
New Delhi
Thursday, August 5, 2021

एर्दोआन को तनाशाह बताने पर तुर्की ने इटली के राजदूत को तलब कर जताई नाराजगी

Must read

- Advertisement -

तुर्की के विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को देश के राष्ट्रपति पर इटली के प्रधानमंत्री द्वारा की गई टिप्पणी की निंदा करने के लिए इतालवी राजदूत को तलब किया।

इतालवी प्रधान मंत्री मारियो ड्रैगन ने गुरुवार को एक समाचार सम्मेलन में तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन को “तानाशाह” कहा था। उन्होने कहा, “मैं पूरी तरह से एर्दोआन के व्यवहार से असहमत हूं। मेरा मानना ​​है कि यह उचित व्यवहार नहीं था। मुझे वास्तव में इस अपमान के लिए खेद था कि [यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष उर्सुला] वॉन डेर लेयेन को नुकसान उठाना पड़ा।

“यहाँ हमें इस बात पर विचार करना है कि इन के साथ – चलो उन्हें बुलाएं कि वे क्या हैं – तानाशाह, जिन्हें हालांकि हमें सहयोग करने की आवश्यकता है, यह है कि हमें अपने विचारों, व्यवहार और समाज के दृष्टिकोण को व्यक्त करने में स्पष्ट होना चाहिए, लेकिन हमें अपने देश के हितों को सुनिश्चित करने के लिए सहयोग करने के लिए भी तैयार रहने की जरूरत है। हमें सही संतुलन खोजने की जरूरत है।”

तुर्की के विदेश मंत्री मेवलाट आउवुसोलु ने भी इतालवी पीएम की टिप्पणी को खारिज कर दिया। उन्होंने ट्विटर पर कहा, “हम अपने निर्वाचित राष्ट्रपति पर इतालवी पीएम की अस्वीकार्य टिप्पणियों की कड़ी निंदा करते हैं।”

मंगलवार की बैठक में बैठने की व्यवस्था पर कुछ हलकों में आलोचना हुई थी, जहां तुर्की के राष्ट्रपति और यूरोपीय संघ परिषद के प्रमुख चार्ल्स मिशेल अलग-अलग कुर्सियों पर बैठे थे, जबकि वॉन डेर लेयेन शुरू में खड़ी थी। उसके बाद उन्हे एक सोफे पर बैठने की पेशकश की गई, जिसके साथ आउवुसोलु भी उनके सामने एक अलग सोफे पर बैठ गए।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article