Home उत्तर प्रदेश गरीब बच्चों के चेहरों पर मुस्कान लाकर युवाओं ने मनाई अपनी ईद

गरीब बच्चों के चेहरों पर मुस्कान लाकर युवाओं ने मनाई अपनी ईद

198
SHARE
अमीर हो या गरीब हर मुसलमान के लिए ईद का त्यौहार बहुत महत्वपूर्ण होता है! इस्लामिक फर्ज अदायगी का ईनाम ईद है और ईद के मायने की खुशियां देना है! ऐसे मे अगर कोई मुसलमान ईद की खुशियो से महरूम रह जाये तो ईद की खुशियाँ मनाना ही बेमानी है!
लेकिन जब हम किसी ऐसे के चेहरे की ख़ुशी बन जायें जिनके पास ना तो रहने के लिये ख़ुद का मकान है, न ही दो वक़्त को खाने का सामान और ना ही ईद के दिन पहनने को नया लिबास ! तो ईद की खुशिया दुगुनी हो जाती है!
तो ऐसे ही लोगों के साथ ईद मनाने का फैसला लखनऊ के कुछ युवाओ ने किया जो की हम और आप जैसे साधारण से लोग है लेकिन इन की इस असाधारण पहल ने पुराने लखनऊ के बच्चो के चेहरो पर मुस्कान की एक लहर दे दी !
इन मासूम बच्चो के साथ ईद मना कर जो सुकून हासिल हुआ। उसका लफ्जों मे बयान नहीं किया जा सकता है! किसी मुसलमान के चेहरे पर मुस्कान लाना ही तो असली इबादत है ! वह भी ईद के मौके पर !
Loading...