Home उत्तर प्रदेश बदायूं: एम्बुलेंस नहीं मिली, गरीब शोहर ने बीवी की लाश को कंधे...

बदायूं: एम्बुलेंस नहीं मिली, गरीब शोहर ने बीवी की लाश को कंधे पर ढोया

91
SHARE

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विकास के दावो के बीच यूपी के बदायूं जिले में मानवता को शर्मसार कर देने वाला एक मामला सामने आया है. जिसने सरकार के कामों की पोल खोल के रख दी है.

दरअसल, शव वाहन नहीं मिलने के कारण एक पति को अपनी पत्‍नी की लाश को कंधे पर ढोने को मजबूर होना पड़ा. अस्पताल की और से एम्बुलेंस उपलब्ध नहीं कराने जाने के आरोप के बाद इस घटना की जांच के आदेश दिए गए हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मामले में जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नेमि चंद्रा ने मंगलवार को बताया कि उन्हें मीडिया से जानकारी मिली है कि मूसाझाग थाना क्षेत्र के मझारा गांव की महिला मुनीशा को जिला अस्पताल में उसके पति सादिक ने सोमवार की सुबह भर्ती कराया था. दोपहर बाद मुनीशा की मौत हो गई. सादिक के पास कथित रूप से इतने पैसे नहीं थे कि शव को किसी निजी वाहन से घर ले जा सके.

उन्होंने बताया कि ऐसा आरोप है कि सादिक ने जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉक्टर आर. एस. यादव को पत्र लिखकर एम्बुलेंस की मांग की लेकिन वाहन का इंतजाम नहीं हुआ. इस पर सादिक अपनी पत्नी के शव को अपने कंधे पर ही रखकर अस्पताल से चला गया.

सादिक को जिला अस्पताल से शव कंधे पर लेकर निकलते देख आसपास के दुकानदारों और राहगीरों ने चंदा एकत्र करके टेम्पो से शव घर पहुंचवाया.

Loading...