ईद की नमाज भी घरों में करनी पड़ सकती है अदा, 30 जून तक नहीं होगा कोई सामूहिक कार्यक्रम

कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 30 जून तक सार्वजनिक सभाओं पर रोक लगा दी है। ऐसे में माना जा रहा है कि इस बार मुस्लिम समुदाय को ईद की नमाज भी घरों में ही अदा करनी होगी। बता दें कि लॉकडाउन के बाद से ही मुस्लिम समुदाय घरों में नमाज अदा कर रहा है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार देर रात को ट्वीट कर यह एलान किया है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, “अधिकारियों को निर्देशित किया है कि आगामी 30 जून तक किसी भी पब्लिक गैदरिंग की अनुमति न दी जाए। उसके बाद परिस्थितियों पर विचार करते हुए कोई भी निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने फेक रिपोर्टिंग पर अंकुश लगाने के भी निर्देश दिए हैं।”

आदित्यनाथ ने ट्वीट किया, “यह कोरोना के खिलाफ वैश्विक लड़ाई है। इसकी सफलता के लिए हमें सारे प्रयास करने होंगे। प्रदेश की सभी सीमाएं यथावत सील रहेंगी। पूरे प्रदेश में कच्ची शराब की बिक्री हर हाल में रोकी जाए। गोकशी में संलिप्त लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगाया जाए।”

उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “अभी कोरोना संक्रमण के प्रति हम सब को पूरी सावधानी बरतनी है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के अधिकांश मामले तब्लीगी जमात के कारण फैले। तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों को चिन्हित करते हुए उन्हें क्वारंटीन किया जाए। उनकी टेस्टिंग भी की जाए।”

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर काबू करने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ पहले ही पुलिस और प्रशासन की जिम्मेदारी तय कर चुके हैं। उन्होंने सभी थानेदारों को निर्देश दिया था कि अगर वे कोरोना संक्रमितों की तलाश नहीं कर सके तो इसके जिम्मेदार होंगे।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE