चंपत राय के खिलाफ की FB पोस्ट तो पत्रकार समेत तीन पर मुक’दमा दर्ज

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के खिलाफ फेसबुक पोस्ट करने के मामले में बिजनौर पु’लिस ने पत्रकार विनीत नारायण और दो अन्य पर मामला दर्ज किया है। पुलि’स ने उनके भाई की तहरीर पर मुक’दमा दर्ज किया है। अयोध्या में कथित जमीन घोटाले को लेकर चंपत राय चर्चा में है।

पु’लिस ने पत्रकार के खिलाफ कुल 18 संगीन धाराओं के तहत मुक’दमा दर्ज किया है। पु’लिस ने कहा कि नारायण ने अपने पोस्ट में आरोप लगाया कि राय जमीन हड़पने के मामले में शामिल है। विनीत नारायण ने 2 दिन पहले मुख्यमंत्री योगी के नाम लिखी फेसबुक पोस्ट में आरोप लगाया था कि चंपत राय ने अपने भाइयों के साथ मिलकर इंडोनेशिया में रहने वाली एक महिला की गौशाला की जमीन पर कब्जा कर लिया है। उन्होने ये भी कहा कि अल्का लाहोटी कब्जे से जमीन छुड़ाने के लिए सीएण योगी से भी गुहार लगा चुकी हैं।

चंपत राय के भाई संजय बंसल ने दर्ज कराई प्राथमिकी में कहा कि पोस्ट में कही गई सभी बातें झूठी और मनगढ़ंत थीं… विनीत नारायण ने परिवार के खिलाफ अलका और अन्य आरोपियों के साथ मिलकर साजिश रची है। करोड़ों हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंची है और सामाजिक व्यवस्था के भंग होने की संभावना है।

वहीं बिजनौर पुलि’स एसपी ने एक बयान जारी कर कहा कि चंपत राय के खिलाफ लगाए गए सभी आरोप निराधार हैं। एसपी धर्मवीर सिंह ने कहा, ‘चंपत राय वीएचपी के वरिष्ठ नेता और राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य हैं। उनके खिलाफ लगाए गए आरोप आधारहीन हैं और प्रथम दृष्टया जांच में उनके भाई के खिलाफ लगाए गए आरोप भी आधारहीन पाए गए हैं।’ हालांकि, उन्होंने यह भी कहा है कि स्थानीय पु’लिस मामले की जांच कर रही है।

नारायण 90 के दशक की शुरुआत में हवाला घोटाले में कानूनी मामले को आगे बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं, जिसमें कई राजनेताओं और नौकरशाहों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया गया था। यह उनकी जनहित याचिका थी जिसके कारण सीबीआई निदेशक की नियुक्ति से संबंधित सर्वोच्च न्यायालय के महत्वपूर्ण फैसले हुए।