11 रुपये में ‘कोरोना’ का ताबीज बेच रहा ढोंगी बाबा हुआ गिरफ्तार

लखनऊ. कोरोना वायरस के आगमन के साथ ही देश में ढोंगी बाबाओ के कमाई के रास्ते खुल गए। कोई ताबीज के जरिये, तो कोई गोमूत्र-गोबर के जरिये ‘कोरोना’ के इलाज का दावा कर कमाई कर रहा है। ऐसे में पुलिस ने राजधानी लखनऊ के वजीरगंज में अहमद सिद्दीकी नाम के ढोंगी तांत्रिक को गिरफ्तार किया है।

लखनऊ के एडिशनल सीपी (पश्चिम) विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि सीएमओ की ओर से शिकायत मिलने पर धोखाधड़ी की धाराओं के तहत जवाहर नगर निवासी अहमद सिद्दीकी को गिरफ्तार किया गया है। उनके मुताबिक, आरोपी खुद को कोरोना वाला बाबा बताकर लोगों को ताबीज़ बेच कर ठगी कर रहा था।

बता दे कि लखनऊ में दो मामलों की पुष्टि होने से बाद से खलबली मच गई है। उत्तर प्रदेश में अब एक दर्जन पॉजिटिव केस हैं। लखनऊ में कनाडा से आई डॉक्टर का इलाज केजीएमयू में चल रहा है। वहीं उसके परिवार के एक और सदस्य को भी कोरोना वायरस की पुष्टि हो गई है।

शनिवार को आई रिपोर्ट में परिवार के एक और सदस्य को कोरोना की पुष्टि हुई हैा अब तक लखनऊ में दो सहित यूपी में 12 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई है। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के मेडिसिन विभाग के चिकित्सक प्रो डी हिमांशु ने बताया कि सर्दी जुकाम से पीडि़त युवक को सिविल अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसके नमूने परीक्षण के लिये केजीएमयू भेजे गये थे। शुक्रवार रात नमूने की जांच पॉजिटिव पाए जाने के बाद युवक को केजीएमयू भेज दिया गया जहां उसे अलग वार्ड में रखा गया है।

केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ सुधीर सिंह ने बताया कि यह युवक कनाडा में रहने वाली महिला का रिश्तेदार है और उसके संपर्क में आने के कारण ही वह भी संक्रमित हुआ है। डॉ हिमांशु के अनुसार इससे पहले कनाडा के टोरंटो में रहने वाली 35 वर्षीय महिला डॉक्टर 11 मार्च को कोरोना के लक्षणों के साथ अस्पताल में भर्ती हुई थी। वह आठ मार्च को अपने पति के साथ लखनऊ अपने रिश्तेदारों से मिलने आयी थी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE

[vivafbcomment]