Home उत्तर प्रदेश कबीर दास की मजार पर पहुंचे योगी, टोपी पहनने से किया इंकार

कबीर दास की मजार पर पहुंचे योगी, टोपी पहनने से किया इंकार

1219
SHARE

उत्तर प्रदेश के संत कबीरनगर के मगहर में बुधवार को संत कबीर की मजार पर चादर चढ़ाने के लिए पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टोपी पहनने से इंकार कर के बड़ा विवाद पैदा कर दिया है।

दरअसल, मजार के संरक्षक ने उन्हें टोपी पहनाने की कोशिश की, लेकिन योगी ने उनका हाथ पकड़कर टोपी को दूर कर दिया। इससे पहले साल 2011 में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने तीन दिन के सद्भावना उपवास के दौरान एक मुस्लिम मौलाना की ओर से दी गई टोपी नहीं पहनी थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

टोपी ना पहनने की वजह से सबसे पहले समाजवादी पार्टी ने योगी पर हमला किया। पार्टी के नेता सुनील साजन का कहना है कि योगी को सभी टोपियां एक जैसी लगती हैं। योगी पाखंड में फंसे हुए हैं। ऐसे लोगों को कबीरधाम नहीं जाना चाहिए।

इसके बाद कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि किसी को जबरदस्ती टोपी नहीं पहनानी चाहिए। पहले मोदी ने और अब योगी ने टोपी पहनने से मना किया है। प्रमोद तिवारी ने यह भी कहा कि टोपी पहनने से कोई छोटा या बड़ा नहीं हो जाता है लेकिन यह केवल सम्मान की बात होती है।

बता दें कि प्रधानमंत्री संत कबीर दास की 500वीं पुण्यतिथि पर उनकी परिनिर्वाण स्थली पर जाकर उनकी मजार पर चादर चढ़ाएंगे। साथ ही वह कबीर अकादमी का शिलान्यास करेंगे। मोदी एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे, जिसे भाजपा 2019 के लोकसभा चुनावों के मद्देनजर प्रचार की शुरूआत के रूप में देख रही है।

Loading...