Home उत्तर प्रदेश सीता माता के अपमान पर यूपी के उपमुख्यमंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज

सीता माता के अपमान पर यूपी के उपमुख्यमंत्री के खिलाफ मुकदमा दर्ज

122
SHARE

यूपी के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा सीता माता के अपमान को लेकर चौतरफा घिरे हुए है. ऐसे में अब उनकी मुश्किलें और बढ़ गई है. उनके खिलाफ बिहार की एक अदालत में परिवाद पत्र दायर किया गया है.

बिहार के सीतामढ़ी के अधिवक्ता चंदन कुमार सिंह ने सीता को ‘टेस्ट ट्यूब बेबी’ बताए जाने के खिलाफ दिनेश शर्मा को मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी सरोज कुमारी के न्यायालय में परिवाद पत्र दाखिल कर आरोपित किया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ने मामले को अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी ज्योति कुमारी के कोर्ट में भेज दिया है. सिंह ने परिवाद पत्र में आरोप लगाया है कि उत्तर प्रदेश के मथुरा में किसी स्थान पर डिप्टी सीएम शर्मा ने एक जून को सार्वजनिक रूप से जगत जननी मां जानकी के बारे में आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया.

इस बयान से न केवल एक धर्म विशेष के लोगों की भावना आहत हुई है, बल्कि यह मिथिला और मैथिली का अपमान है. शर्मा ने हिंदू धर्म का मजाक उड़ाया है. बता दें कि सीतामढ़ी माता सीता की जन्मस्थली है, जहां राजा जनक को हल चलाने के दौरान जमीन के अंदर से माता सीता बालिका रूप में मिली थी.

गौरतलब है कि शर्मा ने कहा था कि रामायण काल में सीताजी का जन्म एक घड़े से हुआ था, जबकि सच्चाई यह है कि उस काल में टेस्ट ट्यूब बेबी जैसी तकनीक मौजूद थी, जिसके जरिये सीताजी का जन्म हुआ होगा. दिनेश शर्मा ने उक्त बातें 31 मई को लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित एक समारोह में कही थी.

Loading...