बीजेपी के 2 रुपए ट्वीट वाले टूलकिट का खुलासा करने वाले पूर्व आईएएस पर मुक’दमा दर्ज

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की 2 रुपए ट्वीट में छवि चमकाने वाले टूलकिट का खुलासा करने वाले रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह के खिलाफ पुलि’स ने मुक’दमा दर्ज किया है। सूर्य प्रताप सिंह ने ही अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ऑडियो शेयर कर इस टूलकिट के बारे में खुलासा किया था।

अब रिटायर्ड आईएएस अधिकारी के खिलाफ यूपी के रावतपुरी के रहने वाले अतुल कुशवाहा ने मुक’दमा दर्ज कराया है। दरअसल, ऑडियो में अतुल का भी नाम लिया जा गया है। अतुल ने अपना नाम लेने पर आपत्ति जताई है और आरोप लगाया है कि इस ऑडियो के जरिए उनके नाम को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।

ऐसे में अब मुक’दमा दर्ज करने को लेकर सूर्य प्रताप सिंह ने कहा कि “सीधे उन्हें आतं’कवादी ही घोषित कर दिया जाए। रोज रोज उन पर एफआईआर करने में सरकार को भी तकलीफ होती होगी।”

उन्होने आगे लिखा, आक्सीजन ये नहीं दे पा रहे – मुकदमा सूर्यप्रताप सिंह पर नदियों में श’व इनकी वजह से तैर रहे हैं – मुकदमा सूर्यप्रताप सिंह पर संक्रमण काल में टेस्टिंग इन्होंने नहीं की – मुकदमा सूर्यप्रताप सिंह पर 2 रु देकर नफ़रत भरे ट्वीट ये करवाएँ – मुकदमा सूर्यप्रताप सिंह पर ये कैसा इंसाफ?

यह ऑडियो सीएम योगी आदित्यनाथ के सोशल मीडिया अकाउंट को देखने वाली टीम के सदस्यों से जुड़े होने का दावा किया जा रहा है। इस टूलकिट विवाद के सामने आने के बाद कंपनी से आईटी सेल के हेड मनमोहन सिंह को पद से हटा दिया।

वहीं बीजेपी प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने सफाई देते हुए कहा कि बीजेपी और सीएम योगी का इस मामले से कोई भी लेना देना नहीं है। उन्होंने इसे एक प्राइवेट कंपनी (Private Company) से जुड़ा हुआ मामला बताया। वहीं आईटी हेड मनमोहन सिंह ने कंपनी से निकाले जाने को लेकर एक ट्वीट किया। जिसमे उन्होने कहा, ‘हजारों जवाबों से अच्छी हमारी खामोशी न जाने कितने सवालों की आबरु रख लेगी।’