Home उत्तर प्रदेश योगीराज में खाने को नहीं मिला कुछ, मां-बेटी ने जहर खाकर दे...

योगीराज में खाने को नहीं मिला कुछ, मां-बेटी ने जहर खाकर दे दी जान

1522
SHARE

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विकास के दावों के बीच बरेली के विशारतगंज क्षेत्र में कथित तौर पर गरीबी व भुखमरी की शिकार एक गरीब महिला ने अपनी बेटी को जहर खिलाने के बाद खुदखुशी कर ली।

जानकारी के अनुसार, आंवला तहसील क्षेत्र के अतरछेड़ी गांव में राजवती (60) अपनी बेटी रानी (25) के साथ रहती थीं। राजवती का पति उदयभान और बेटा गांव छोड़कर बाहर चले गये थे। इस वजह से राजवती आर्थिक तंगी से गुजर रही थी।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राजवती की दूसरी बेटी रेखा ने बताया कि राजवती ने कल पहले अपने बेटी को जहर दिया और बाद में खुद भी खा लिया। इस दौरान राजवती की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि रानी को गम्भीर हालत में बरेली के अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

बताया जा रहा है कि इन लोगों के पास पहले बीपीएल कार्ड था जिसे निरस्त कर दिया गया था क्योंकि इनके पास आधार कार्ड नहीं था। पुलिस ने बताया कि तीन बेटियों में से दो की शादी हो गई थी।

इस बीच, बरेली के जिलाधिकारी वीरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि महिला और उसकी बेटी की मौत भूख से नहीं हुई है। आधार कार्ड ना होने के कारण उनका राशन कार्ड निरस्त हो गया था मगर उसे नियमित रूप से राशन मिल रहा था। इस सवाल पर कि जब राशन कार्ड निरस्त हो गया था, तो उन्हें राशन कहां से मिल रहा था, जिलाधिकारी ने कोई जवाब देने से इनकार कर दिया।

एसपी ग्रामीण डॉ. सतीश कुमार ने बताया कि मृतक महिला के पति ने उन्हें छोड़ दिया था. बेटी बीमार थी। शायद इन्हीं कारणों से परेशान होकर उन्होंने यह कदम उठाया है। हालांकि पोस्टमार्टम किया जा रहा है जिससे सही कारण का पता चल सकेगा।

Loading...