No menu items!
23.1 C
New Delhi
Tuesday, November 30, 2021

फर्जी अफवाहों से बचने के लिए व्हाट्सएप ने जारी किए ये 10 टिप्स

फर्जी मैसेज कारण बढ़ रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं से बचने के लिए अब व्हाट्सएप ने बड़ा कदम उठाया है। आज व्‍हाट्सएप ने सभी प्रमुख अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कर इन अफवाहों से बचने के लिए 10 टिप्‍स जारी किए हैं।

व्हाट्सएप ने कहा है कि हम एक साथ मिलकर गलत जानकारी की समस्या को दूर कर सकते हैं। इसके लिए प्रौद्योगिकी कंपनियों, सरकार और सामुदायिक संगठनों को मिलकर काम करना होगा। अगर आपको कुछ ऐसा दिखाई देता है जो आपको लगता है कि सच नहीं है तो कृपया उसकी रिपोर्ट करें।

इस विज्ञापन में व्हाट्सएप ने उपयोक्ताओं से अनुरोध किया है कि वे अग्रेषित किए गए संदेशों से सावधान रहें, परेशान करने वाली जानकारी पर खुद से सवाल उठाएं, जिस जानकारी पर यकीन करना मुश्किल हो उसकी जांच करें, संदेशों में मौजूद फोटो या वीडियो को ध्यान से देखें , लिंक की जांच करें और संदेशों को सोच समझकर साझा करें।

व्हाट्सएप द्वारा जारी किए गए अन्य टिप्स 

  • ऐसी जानकारी के तथ्यों पर सवाल उठाएं जो आपको परेशान करती हो।
  • ऐसी जानकारी की जांच करें जिसपर यकीन करना कठिन हो
  • ऐसे संदेशों से बचें जो थोड़े अलग हों। इस प्रकार के अधिकांश मैसेज में गलत वर्तनी का इस्तेमाल किया जाता है। इस प्रकार के चिह्नों का ध्यान रखे जिससे पता चल सके की मैसेज में मौजूद जानकारी सच है या नहीं।
  • बहुत से मैसेज में ऐसे वीडियो या फोटो होती हैं, जो आपको भ्रमित कर सकती हैं। कई बार फोटो तो सच होती है लेकिन उसके साथ फॉरवर्ड की गई कहानी गलत होती है। इसलिए मैसेज में मौजूद फोटो को ध्यान से देखें।
  • किसी भी फॉरवर्ड लिंक पर क्लिक करने से पहले जांच लें कि लिंक सही है या नहीं। कई बार लिंक किसी जानी मानी साइट का लगता है कि लेकिन अगर लिंक में गलत वर्तनी मौजूद है तो सावधान रहें।
  • किसी भी घटना की सच्चाई जानने के लिए अन्य समाचार साइट्स या एप का इस्तेमाल करें। यदि कोई घटना सच्ची होगी तो उसकी खबर कई जगहों पर मौजूद होगी।
  • किसी भी मैजेस को शेयर करने से पहले सोच समझ लें। यदि किसी मैसेज के सोर्स के बारे में जानकारी नहीं हो, तो उसे फॉरवर्ड न करें।
  • व्हाट्सएप पर यूजर्स किसी भी नंबर को ब्लॉक कर सकते हैं या किसी भी ग्रुप को छोड़ सकते हैं।
  • इस बात पर ध्यान दें कि कोई संदेश आपको कितनी बार प्राप्त हो रहा है। झूठी खबरों को अक्सर शेयर किया जाता है। यदि कोई खबर आप तक कई बार आती है तो इसका मतलब ये नहीं है कि वो खबर सच्ची हो।

बता दें कि भारत सरकार ने फेक न्यूज के बढ़ते खतरे को देखते हुए व्हाट्सएप को चेतावनी जारी की थी। इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रोद्योगिकी मंत्रालय ने कहा, “इस तरह के भ्रामक और फर्जी वीडियो और कंटेंट को व्हाट्सएप पर बार-बार शेयर किया जाना भारत सराकर के लिए चिंता का कारण है. अगर इस पर लगाम नहीं लगी तो सरकार कड़े कदम उठायेगी।

इस पूरे मामले पर व्हाट्सएप के प्रवक्ता  ने चिंता जाहिर करते हुए कहा, “व्हाट्सएप अपने यूजर्स की सुरक्षा को लेकर चिंतित है। हम भारत में कई एकेडमिक एक्सपर्ट के साथ काम कर रहे हैं। हम यह पता कर रहे हैं कि किस तरह गलत सूचना फैलाने के लिए हमारे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जा रहा है।

Get in Touch

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Get in Touch

0FansLike
3,034FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Latest Posts

error: Content is protected !!