Home खेलकूद मोदी सरकार ने नहीं निभाया वादा, ओलंपियन शाहिद की पत्नी करेगी पद्मश्री...

मोदी सरकार ने नहीं निभाया वादा, ओलंपियन शाहिद की पत्नी करेगी पद्मश्री वापस

525
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के वादाखिलाफी से नाराज दिवंगत ओलंपियन मोहम्मद शाहिद की पत्नी ने पद्मश्री पुरस्कार समेत अन्य सम्मान वापस करने का फैसला किया है।

20 जुलाई को मास्को ओलंपिक (1980) में स्वर्ण जीतने वाली भारतीय हॉकी टीम के हीरो रहे ड्रिबलिंग के उस्ताद मोहम्मद शाहिद की पुण्यतिथि पर परवीन दिल्ली जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मेडल और अन्य पुरस्कार लौटाएंगी। मो. शाहिद को अर्जुन पुरस्कार और यश भारती सम्मान समेत अन्य पुरस्कार मिले थे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल, उनके इंतकाल के बाद तत्कालीन केंद्रीय खेल राज्यमंत्री विजय गोयल ने मो. शाहिद के नाम पर काशी में अखिल भारतीय हॉकी प्रतियोगिता शुरू कराने का वादा किया था। साथ ही ओलंपियन हॉकी खिलाडि़यों धनराज पिल्लै व जफर इकबाल ने काशी में उनके नाम से हॉकी अकादमी शुरू करने का इरादा जताया था। ये दोनों वादे अभी पूरे नहीं हुए।

परवीन के मुताबिक, “घर की आर्थिक हालत खस्ता होती जा रही है। विधवा पेंशन पर घर कब तक चलेगा? सरकार ने पति को इज्जत दी, सम्मान दिया। मगर आज वह नहीं है, तब इन सम्मान-पुरस्कारों का मैं क्या करूंगी?”

परवीन शाहिद ने बताया कि वे अब तक हर उस व्यक्ति से मिल चुकी हैं, जिसने इंतकाल के समय कुछ करने के वादे किए थे। अपने लिए कुछ नहीं मांग रहीं, मगर हॉकी की सुविधाएं विकसित होनी चाहिए।

Loading...