Home राजस्थान सियासी पार्टियों के हाथों अब नहीं ठगा जाएगा राजस्थान का मुसलमान

सियासी पार्टियों के हाथों अब नहीं ठगा जाएगा राजस्थान का मुसलमान

1757
SHARE

चुनावों के वक्त वोट लेकर पाँच सालों तक अपना मुंह नहीं दिखाने वाले नेताओं के खिलाफ राजस्थान के चीफ काजी खालिद उस्मानी ने चेतना अभियान शुरू करने का ऐलान किया है।

उस्मानी ने कहा कि सियासी पार्टियों से अब राजस्थान का मुसलमान ठगा नहीं जाएगा। राजनीतिक पार्टियां ऐसे उम्मीदवारों को चुनाव में मौका दें जो कौम की फलाह व बहबूदी के लिए कार्य कर सकें।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शनिवार को दरगाह जियारत के बाद मीडिया से मुखातिब हुए उस्मानी ने कहा कि हमें काम करने वाला कार्यकर्ता चाहिए, निठल्ला नेता नहीं चाहिए। पांच साल गुजार कर चला जाता है और मुसलमानों के काम नहीं करता। हम अब इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि वे किसी पार्टी विशेष की बात नहीं कर रहे हैं, बल्कि भाजपा, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी या कोई और भी पार्टी हो सबकी बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन्हें वोट लेना होगा उन्हें अब मशविरा लेकर योग्य और मुसलमानों का भला करने वाले उम्मीदवार को टिकट देना होगा। सभी राजनीतिक दलों को इस ओर ध्यान देना होगा।

काजी ने कहा, ऐसे उम्मीदवार काे टिकट दिया जाए जो कौम की शैक्षिक उन्नति के लिए प्रयास करे, रोजगार की समस्या के समाधान की दिशा की ओर कार्य करे। अभी तक यह हो रहा है कि राजनीतिक पार्टियां जिन उम्मीदवारों को टिकट दे रही हैं, वे चुनाव के समय तो मुसलमानों के हितैषी नजर आते हैं, लेकिन चुनाव जीतने के बाद पांच साल तक उनका पता नहीं रहता।

चीफ काजी खालिद उस्मानी ने कहा कि वे पूरे राजस्थान में करेंगे और मुसलमानों को जागृत करेंगे। अगला पड़ाव उनका जोधपुर रहेगा और इसके बाद बीकानेर, जैसलमेर और हनुमानगढ़ जिले होंगे। वे पूरे राजस्थान में पहुंच कर मुसलमानों में जनजागरण चलाएंगे।

Loading...