Home राजस्थान अकबर हत्याकांड: NHRC और अल्पसंख्यक आयोग ने मांगी वसुंधरा सरकार से रिपोर्ट

अकबर हत्याकांड: NHRC और अल्पसंख्यक आयोग ने मांगी वसुंधरा सरकार से रिपोर्ट

398
SHARE

गौरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी की भेंट चड़े अकबर के मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग और राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने वसुंधरा सरकार से रिपोर्ट मांगी है। आयोग ने मामले में प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस जारी कर 2 सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा है।

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का नोटिस मिलने के बाद राज्य के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता और गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव शैलेन्द्र अग्रवाल ने अधिकारियों के साथ बैठक की।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीं राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने घटना का स्वत: संज्ञान लेते हुए जिला प्रशासन से 7 दिनों के भीतर कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है। आयोग के अध्यक्ष सैयद गयूरुल हसन रिजवी ने अलवर के कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित को पत्र लिखकर कहा है कि वह सात दिनों के भीतर सूचित करें कि इस जघन्य घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई की गई।

बता दें कि शुक्रवार रात को मृतक अकबर खान दोस्त असलम के साथ लालवंडी के पास एक जंगल से गाय लेकर गुजर रहा था,  तभी गौरक्षकों ने उन पर हमला किया था। हमलावरों द्वारा अकबर को बुरी तरह से पीटा जाने से उसकी मौत हो गर्इ थी। वहीं उसका साथी असलम किसी तरह से अपनी जान बचाकर भागने में सफल रहा।

अकबर के परिजनों का आरोप है कि VHP नेता और बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा के समर्थक नवल किशोर शर्मा और उसके साथियों ने ही उनके बेटे की जान ली है। अब इन लोगों को बचाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस ने अब तक तीन आरोपियों को ही गिरफ्तार किया है। बल्कि दो अब भी फरार है।

परिजनों के मुताबिक नवल किशोर शर्मा और उसके साथियों पर भाजपा विधायक ज्ञान देव आहूजा का हाथ है। पिटाई के दौरान भी वे ज्ञान देव आहूजा का हाथ उन पर होने की बात कह रहे थे।

Loading...