अगर मेरी गिर’फ्तारी से असम-मिजोरम सीमा विवाद सुलझ जाता है तो खुशी होगी: हिमंत बिस्वा सरमा

0
329

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने रविवार को कहा कि अगर उनकी गि’रफ्तारी से असम-मिजोरम सीमा विवाद सुलझ जाता है तो उन्हें बहुत खुशी होगी।

हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, “मुझे बहुत खुशी है अगर मेरे खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने से असम-मिजोरम सीमा विवाद सुलझ सकता है। अगर पुलि’स मुझे नोटिस देती है तो मैं जाकर जांच में शामिल हो जाऊंगा। मैं सिलचर से वैरेंगटे जाऊंगा और जांच में शामिल होऊंगा। अगर मिजोरम पुलि’स मुझे गिर’फ्तार करती है, तो मैं गुवाहाटी उच्च न्यायालय से अंतरिम जमानत लेने नहीं जाऊंगा।”

विज्ञापन

असम के सीएम की टिप्पणी मिजोरम पुलि’स द्वारा 26 जुलाई को असम-मिजोरम सीमा पर हाल की हिं’सा पर ह’त्या के प्रयास और आप’राधिक साजिश के आरोप में मामला दर्ज करने के बाद आई है, जिसमें छह लोग मा’रे गए और 60 से अधिक लोग घा’यल हो गए।

मिजोरम पुलि’स ने असम सरकार के चार पुलि’स अधिकारियों और दो अन्य के खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज की है। उस पर प्रतिक्रिया देते हुए, हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा, “मुझे अपने अधिकारियों की रक्षा करनी है। मैं अपने अधिकारियों को गिर’फ्तार नहीं होने दूंगा या अपने अधिकारियों को नहीं ले जाने दूंगा और हम उस नोटिस को स्वीकार नहीं करेंगे।

“लेकिन अगर मुझे नोटिस दिया जाता है, तो मैं पैदल चलकर वैरेंगटे जाऊंगा। मैं अपनी पदयात्रा सिलचर से शुरू करूंगा और वैरेंगटे पहुंचूंगा। अगर मेरी गिरफ्ता’री से विवाद सुलझ जाएगा, तो क्यों न मुझे आज ही गिर’फ्तार कर लिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here