पश्चिम बंगाल बीजेपी चीफ बोले – कोरोना वायरस से लड़ने के लिए गोमूत्र पीएं

पश्चिम बंगाल के बीजेपी प्रमुख दिलीप घोष ने एक बार फिर से गोमूत्र की अहमियत बताते हुए कोरोना महामारी में लोगों से गोमूत्र का सेवन करने की बात कहीं है। उन्होने दावा किया कि गोमूत्र के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। जिससे शरीर को कोरोना वायरस से लड़ने में मदद मिलती है।

वायरल हो रहे वीडियो में दिलीप घोष कह रहे हैं कि “यदि मैं आपसे गाय की बात करूं तो बहुत से लोग इससे असहज हो जाएंगे। गधे कभी भी एक गाय की अहमियत नहीं समझेंगे। यह भारत है, भगवान श्रीकृष्ण की धरती, यहां हम गाय की पूजा करते हैं। हमें स्वस्थ रहने के लिए गोमूत्र पीना चाहिए। जो शराब पीते हैं वो कैसे एक गाय की अहमियत को समझेंगे।”

इससे पहले भी उन्होने एक बार कहा था कि गोमूत्र पीने से कोई नुकसान नहीं होता है। उन्हें यह कहने में कोई गुरेज नहीं है कि वे इसका सेवन करते हैं। उन्होने कहा था, “मूत्र के सेवन से कोई नुकसान नहीं है। सदियों से, हमारे देश में लोग मूत्र का सेवन करते रहे हैं, वे सभी फिट और ठीक हैं। मुझे यह कहने से गुरेज नहीं है कि वो गौमूत्र का सेवन करते हैं और इसका सेवन करता रहूंगा। मैं अवसरवादी नहीं हूं।

उनका ये बयान उस वक्त आया था जब पश्चिम बंगाल में गोमूत्र सेवन कार्यक्रम आयोजित करने वाले भाजपा के एक कार्यकर्ता को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। दरअसल, एक नागरिक स्वयंसेवी गोमूत्र का सेवन करने से बीमार पड़ गया था। जिसके बाद उसने भाजपा कार्यकर्ता नारायण चटर्जी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

दिलीप घोष राज्य की ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ भी खासे हमलावर रहे हैं। हाल ही में अपने एक बयान में घोष ने कहा था कि इस समय कोरोना से लड़ने का समय है लेकिन वह (सीएम ममता बनर्जी) राज्यपाल और केन्द्रीय पुलिस से लड़ रही हैं। उनके गुंडे हमारे पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या कर रहे हैं। घोष ने कहा कि ममता राज में विधायक भी सुरक्षित नहीं हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE