सचिन पायलट को फिर से मनाने की कोशिश शुरू, गहलोत बोले – वापस आए तो गले लगा लूंगा

राजस्थान में जारी सियासी संग्राम के बीच आज कांग्रेस ने तीन ऑडियो जारी कर दावा किया कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत हाल संजय जैन के जरिये सरकार गिराने में शामिल थे। संजय जैन को लेकर कहा जा रहा है कि वह जयपुर भाजपा के जिला अध्यक्ष थे। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है।

इसी बीच अब एक बार फिर से सचिन पायलट को मनाने की कवायद शुरू हो गई है। पायलट ने कांग्रेस कार्यसमिति के एक सदस्य को फोन कर बातचीत की है। उन्होंने संकेत दिए हैं कि वो पार्टी के साथ बातचीत करना चाहते हैं। पार्टी ने भी कहा है उनके लिए पार्टी के दरवाजे खुले हैं। इससे पहले पार्टी आलाकमान के निर्देश पर वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और संगठन प्रभारी केसी वेणुगोपाल ने सचिन से संपर्क किया था।

वहीं सीएम गहलोत ने कहा कि पायलट पहले बीजेपी में जाना चाहते थे जब एमएलए तैयार नहीं हुए तो बोले थर्ड फ्रंट बनाएंगे नई पार्टी बनाएंगे। जिस पार्टी ने आपको सब कुछ दिया उससे गद्दारी नहीं करनी चाहिए। मैं सचिन के खिलाफ नहीं, ये राहुल गांधी जानते हैं। अगर सचिन पार्टी में वापस आते हैं तो मैं सबसे पहले उनको प्यार से गले लगा लूंगा।

उन्होंने कहा कि जब मैं एमपी बना था तब सचिन 3 साल के थे। मेरा उनके प्रति और उनके परिवार के प्रति स्नेह हैं। मैं 50 साल से देख रहा हूं, ये लोग कांग्रेस मुक्त नहीं कर पाए। चाहे सिंधिया जी हो या पायलट जी हों सब देखिये किस उम्र में सांसद बन गए, मंत्री बन गए। पायलट जी को 10 साल से एक्स्ट्रा सपोर्ट मिला और वो आज घातक हो गया और उन्हें ज़मीनी हकीकत मालूम होती तो ऐसा नहीं करते।

उन्होंने ये भी कहा कि इतना बड़ा टेप आ गया, मीडिया शांत है। कांग्रेस का होता तो क्या क्या हो गया होता। गहलोत ने कहा कि हम सबकी ज़िम्मेदारी है देश को चलाने की। बीजेपी को तोड़ फोड़ बंद कर देना चाहिए। पूरे देश-दुनिया में थू-थू हो रही है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE