कोरोना संकट के बीच सुब्रमण्यम स्वामी ने की रूपाणी को गुजरात के सीएम पद से हटाने की मांग

अहमदाबाद: गुजरात में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। प्रदेश में अब तक 7 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे में भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के खिलाफ बयान देते हुए उन्हे पद से हटाने की मांग की।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि गुजरात में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और मौतों को रोका जा सकता है, अगर गुजरात का मुख्यंमत्री फिर से आनंदीबेन पटेल को बना दिया जाए। स्वामी के ट्वीट से स्पष्ट है कि विजय रूपाणी के नेतृत्व में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकना काफी मुश्किल हो गया है। उन्हें पट से हटाने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं हैं।

बता दें कि गुजरात में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच गुरुवार को इस बात के कयास लगने लगे थे कि राज्य सरकार महामारी को रोकने में नाकामयाब रही है। ऐसे में कहा जा रहा था कि उनकी जगह केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया को राज्य की कमान दी जा सकती है। हालांकि, मंडाविया ने खुद ही इन आशंकाओं पर ट्वीट कर विराम लगा दिया था।

उन्होंने कहा था कि पूरी दुनिया कोरोना वायरस से जूझ रही है। गुजरात के साथ भी वैसा ही है। राज्य सीएम रूपाणी के कुशल नेतृत्व में है. इस समय, सीएम बदलने आदि के बारे में अफवाहें फैलाना लोगों के हित में नहीं है। मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि वे इस तरह की अफवाहों में न पड़ें।

गुजरात में अभी तक 105387 लोगों की जांच की गई है। जिसमें से अब तक 7403 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये हैं। प्रदेश में इस बीमारी से 449 लोगों मौ’त हो चुकी है। जबकि 1872 लोगों ने इस बीमारी को मात देकर अस्पताल डिस्चार्ज हुए है। राज्य में कोरोना वायरस का सबसे अधिक प्रभाव अहमदाबाद शहर में हैं। यहां अभी तक सबसे ज्यादा 5260 लोग कोरोना संक्रमित हैं, वहीं 343 लोगों की मौ’त हुई है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE