Home राजनीति 90 फीसद के बजाय 40 फीसद वालों की नियुक्ति देश के लिए...

90 फीसद के बजाय 40 फीसद वालों की नियुक्ति देश के लिए घातक: बीजेपी नेता

147
SHARE

मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता गोपाल भार्गव ने आरक्षण पर बयान दिया है. जिसे राजनीतिक हंगामा बरपा होने की आंशका है.

गोपाल भार्गव ने कहा कि ‘ यदि योग्यता को दरकिनार कर अयोग्य लोगों का चयन किया जाएगा, यदि 90 फीसदी वाले को बैठा दिया जाएगा और 40 फीसदी वाले की नियुक्ति की जाएगी तो यह देश के लिए घातक है’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा इससे हमारा देश पिछड़ जाएगा. कहीं ब्राह्मणों के साथ अन्याय न हो जाए. यह प्रतिभा के साथ एक मजाक है और ईश्वर की व्यवस्था के साथ अन्याय हो रहा है.

भार्गव ने आरक्षण के मुद्दे पर अपनी राय रखते हुए कहा कि जब देश आजाद हुआ था तब एक चौथाई सांसद-विधायक, अधिकारी, कर्मचारी हमारे वर्ग के थे लेकिन अब महज 10 फीसदी ही रह गए हैं. इसका कारण यह है कि पहले नीति थी, अब अनीति है.

बयान पर विवाद मचने के बाद गोपाल भार्गव ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा कि उन्होंने तो आरक्षण शब्द का इस्तेमाल ही नहीं किया. उन्होंने कहा कि वह आरक्षण के घोर समर्थक हैं.

Loading...