OIC के बयान पर बोले नकवी – मुस्लिमों के लिए भारत जन्नत, कुछ लोग फैला रहे दुष्प्रचार

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस्लामी देशों के संगठन ओआईसी के भारत में ”इस्लामोफोबिया” के बयान पर कहा कि मुस्लिमों के लिए भारत स्वर्ग है। उन्होने कहा, उनके अधिकार इस देश में सुरक्षित हैं।

नकवी ने कहा कि मुस्लिमों के लिए भारत स्वर्ग जैसा है और उनके अधिकार यहां पूरी तरह सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यकों के साथ साथ देश के सभी नागरिकों के संवैधानिक, सामाजिक, धार्मिक अधिकार भारत की गारंटी हैं। किसी भी स्थिति में ‘अनेकता में एकता’ की ताकत कमजोर नहीं हो सकती।

मंत्री ने कहा कि कुछ लोग दुष्प्रचार कर रहे हैं और हमें मिल कर ऐसी ताकतों को हराना है। फेक न्यूज़ और भड़काऊ अफवाहों से सावधान रहने की जरूरत है। इस तरह की बातों में आकर कोरोना के खिलाफ जंग को कमजोर नहीं होने देना है। पीएम मोदी के नेतृत्व में देश एकजुट होकर कोरोना के खिलाफ लड़ रहा है। उन्होंने कहा कि 24 अप्रैल से शुरू हो रहे रमजान के पवित्र महीने में घरों से ही इबादत की जाए।

बता दें कि इस्लामी सहयोग संगठन (ओआईसी) ने रविवार को भारत से अनुरोध किया कि वह अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के अधिकारों की रक्षा करने और देश में ‘इस्लामोफोबिया’ (इस्लाम धर्म के प्रति पूर्वाग्रह) की घटनाओं को रोकने के लिए तुरंत कदम उठाए।

ओआईसी के स्वतंत्र स्थायी मानवाधिकार आयोग (आईपीएचआरसी)ने एक ट्वीट में यह भी कहा कि भारतीय मीडिया मुस्लिमों की नकारात्मक छवि बना रही है और उनके साथ भेदभाव कर रही है। संगठन ने ट्वीट किया, ‘‘ओआईसी-आईपीएचआरसी भारत सरकार से अनुरोध करता है कि वह भारत में बढ़ रहे ‘इस्लामोफोबिया’ को रोकने और मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों की रक्षा के लिए तुरंत कदम उठाए।’’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE