बीजेपी पर भड़के ओवैसी – मुस्लिमों को बलि का बकरा बनाना कोरोना की दवा नहीं

कोरोनावायरस को तब्लीगी जमात से जोड़ने को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर BJP पर जोरदार निशाना साधा है। ओवैसी ने कहा कि देश में मुस्लिमों को बदनाम करने के लिए हर चीज का इस्तेमाल किया जा रहा है।

ओवैसी ने ट्वीट करके लिखा, “बिना योजना बनाए लागू किए गए लॉकडाउन और COVID-19 से नौसिखियों की तरह निपटने की कोशिशों की आलोचना से बचने का मिलाजुला प्रयास किया जा रहा है… BJP के प्रचारकों को मालूम होना चाहिए कि वे व्हॉट्सऐप फॉरवर्ड के ज़रिये कोरोनावायरस को नहीं हरा सकते… मुस्लिमों को बलि का बकरा बनाना कोरोनावायरस की दवा नहीं है, न ही यह पर्याप्त टेस्टिंग का विकल्प हो सकता है।

उन्होने लिखा, ‘‘भारत में मुस्लिमों को बदनाम करने के लिए हर चीज का इस्तेमाल किया जा रहा है। हमारी वेश-भूषा से लेकर हमारे खान-पान और कारोबार तक। इस पक्षपात से लड़ने के हम काबिल नहीं है। मुझे एक मुसलमान के रूप में ही क्यों निंदा करने के लिए कहा जाता है? क्या आपको कभी भी हिंदुत्व का नाम लेकर ऐसी चीजों की निंदा करने के लिए कहा गया है?’’

बता दे कि भारत में कोविड-19 (COVID-19) से अबतक 124 लोगों की मौ’त हो चुकी है और 4789 लोग इससे संक्रमित हैं। तथा कोरोना वायरस के 353 मरीज (एक प्रवासी समेत) ठीक हो गए हैं जिन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। हर दिन कोरोना के आंकड़ों में इजाफा होता जा रहा है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE