यूपी के पंचायत चुनाव में ओवैसी के सदस्यों ने किया BJP को वोट

उत्तर प्रदेश का विधान सभा चुनाव करीब है। वही एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि वह 2022 में योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री नही बनने देंगे। दूसरी और उनकी पार्टी के सदस्य पंचायत चुनाव में BJP को वोट कर रहे है।

ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के सदस्यों ने गाजीपुर में भारतीय जनता पार्टी के समर्थन में वोट किया है। हालांकि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के भी सदस्यों ने भी खुलकर बीजेपी का समर्थन किया है। राज्य में दोनों पार्टी के नेताओं की दल बदली के कारण 22 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष निर्विरोध चुने गए।

चित्रकूट, आगरा, गौतमबुद्धनगर, मेरठ, गाजियाबाद, बुलंदशहर, अमरोहा, मुरादाबाद, ललितपुर, झांसी, बांदा, श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, गोरखपुर, मऊ और वाराणसी में भाजपा प्रत्याशी निर्विरोध चुने गए। वहीं सहारनपुर, बहराइच, पीलीभीत और शाहजहांपुर में विपक्ष के उम्मीदवारों ने बीजेपी को समर्थन देने के लिए अपना नामांकन वापस ले लिया।

शाहजहांपुर में सपा समर्थित उम्मीदवार बीनू सिंह,  पीलीभीत में, सपा उम्मीदवार स्वामी प्रकाशानंद ने बीजेपी का समर्थन करते हुए अपना नामांकन वापस लिया। वहीं सहारनपुर में, बसपा समर्थित जयवीर उर्फ जॉनी ने अपना नामांकन पत्र वापस लेकर भाजपा समर्थित मंगे राम चौधरी को जिताया।