Home राजनीति मुस्लिम सिर्फ मुस्लिमों को ही वोट देगा तभी मजबूत होगा सेकुलरिज्म और...

मुस्लिम सिर्फ मुस्लिमों को ही वोट देगा तभी मजबूत होगा सेकुलरिज्म और लोकतंत्र: ओवैसी

1461
SHARE

उत्तरप्रदेश के हापुड़ मे गौकशी का आरोप लगाकर मुस्लिम युवक को पीट-पीट कर हत्या के मामले मे कडा रुख अपनाए हुए ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिमों से मुस्लिम उम्मीदवारों को वोट देने की अपील की।

महाराष्ट्र के बीड में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होने कहा, ‘उठो, अपने हक के लिए लड़ो। अगर जिंदा रहना है तो अपने उम्मीदवार को वोट करो, अपने लोगों को जिताओ।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ओवैसी ने सेक्युलरिज्म की बात करने वालों को डाकू करार देते हुए कहा कि कांग्रेस ने 70 साल से सेक्युलरिज्म के नाम पर मुस्लमानों का इस्तेमाल किया है। उन्होने कहा, कांग्रेस पार्टी हम से कहती हैं कि हम चुनाव लड़कर वोट काटते हैं। अरे राहुल तुम छोटे-छोटे मंदिर गये. क्या हुआ हार गए।

उन्होने आगे कहा, कांग्रेस के पापियों प्रणव मुखर्जी आरएसएस के हेडक्वाटर गये। प्रणव मुखर्जी ने कहा कि हेडगेवार एक अच्छे इंसान है। रोजे में अपने बगल में प्रणव मुखर्जी को बिठाया जबकि रोजा मुसलमानों को होता है। यही है कांग्रेस का अच्छा चेहरा।

ओवैसी ने कहा कि अगर मुसलमान देश में धर्मनिरपेक्षता को जिंदा रखना चाहते हैं तो उन्हें अपनी राजनीतिक ताकत बढ़ानी होगी। उन्होंने आगे कहा, ‘मैं आपके दरवाजे पर यह कहने आया हूं कि अगर आप धर्मनिरपेक्षता को बरकरार रखना चाहते हैं तो अपने अधिकारों के लिए लड़िए। राजनीतिक ताकत बढ़ाइए और अपने उम्मीदवारों को जिताने में मदद कीजिए।’

ओवैसी ने कहा कि अगर मुसलमान सियासी तौर पर आगे बढ़ते हैं तो उन्हें डराया नहीं जा सकेगा। उन्होंने कहा, ‘किसी भी तरह से डरने या आतंकित होने की जरूरत नहीं है। अगर मुसलमान राजनीतिक तौर पर ताकतवर होते हैं तभी केवल लोकतंत्र मजबूत होगा। इस देश में धर्मनिरपेक्षता मजबूत होगी। कानून का राज भी मजबूत होगा।’

Loading...