देश में बढ़ते इस्लामोफोबिया पर रोक लगाए मोदी सरकार: कांग्रेस सचिव कासमी

भोपाल: मध्य प्रदेश कांग्रेस सचिव मौलाना उमर कासमी ने देश में बढ़ते इस्लामोफोबिया पर चिंता जाहीर की है। इसके साथ ही उन्होने मोदी सरकार से इस्लामोफोबिया पर सख्त कदम उठाने की मांग की।

उन्होने कहा कि केंद्र में मोदी सरकार के आने के साथ मुस्लिमों पर शुरू हुआ हमलों का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। हर रोज किसी नए बहाने से मुस्लिमों को हिंसा का शिकार बनाया जा रहा है। गाय, लव जिहाद, धर्म परिवर्तन, आतंकवाद, पाकिस्तान, कोरोना आदि के सहारे मुस्लिमों की लिंचिंग की जा रही है।

कासमी ने कहा कि इस्लामोफोबिया के प्रसार में मीडिया की भी बड़ी भूमिका है। सोशल मीडिया ने तो अपनी हदे ही पार कर दी है। एक दिन ऐसा नहीं जाता है जब आईटी सेल के लोग मुस्लिमों के खिलाफ ट्रेंड चलाकर नफरत नहीं फैलाते हो। इसमे डिजिटल मीडिया, प्रिंट मीडिया और ऑनलाइन मीडिया भी पीछे नहीं है।

कांग्रेस सचिव ने कहा कि देश में इस्लामोफोबिया के प्रसार का नतीजा है कि आज मुस्लिमों का अस्पतालों में इलाज से इंकार किया जा रहा है। उनकी दुकानों से सामान, सब्जी-फल दूध नहीं खरीदे जा रहे है। टोपी-दाढ़ी और बुर्का देखकर उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है।

उन्होने कहा कि मुस्लिमों के खिलाफ ये नफरत बहुसंखयक समाज के निचले तबके तक पहुँच गई है। उन्होंने कहा, ग्रामीण क्षेत्र में स्थिति और दयनीय है। ऐसे में अब सरकार को चाहिए की इस पर लगाम लगाए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE