दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल बोले – हिन्दू-मुस्लिम भूलकर कीजिए प्लाज्मा का दान

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना से संक्रमित लोगों के इलाज के लिए प्लाज्मा थेरपी पर ज़ोर दिया। उन्होने कहा कि यह धर्म देखकर किसी की जान नहीं बचाएगा, इसलिए सबको एकजुट रहकर कोरोना से लड़ाई लड़नी है।

केजरीवाल ने कहा, ‘हर धर्म के लोग प्लाज्मा देकर एक दूसरे की जान बचाना चाहते हैं। मेरे मन में विचार आया कि हो सकता है कि किसी मुसलमान का प्लाज्मा हिंदू की जान बचाए। हो सकता है किसी हिंदू का प्लाज्मा मुसलमान की जान बचाए। भगवान ने जब धरती बनाई थी तब इंसान बनाए थे। सबकी दो आंख दी, एक जैसा शरीर दिया। खून भी सबका लाल है। उन्होंने (भगवान) कोई दीवार पैदा नहीं की। ये सब हमने की है। लेकिन ध्यान रहे कि कोरोना होता है तो सबको होता है। इसी तरह प्लाज्मा धर्म देखकर नहीं बचाएगा।

केजरीवाल ने आगे कहा कि अगर हमारे देश के सब लोग मिलकर एक साथ रहेंगे तो हमें (देश) को कोई नहीं हरा सकेगा। उन्होंने कहा अगर ऐसा हुआ तो दुनिया को हमारे सामने झुकना होगा। केजरीवाल ने इससे पहले बताया कि प्लाज्मा थेरपी के नतीजे अबतक अच्छे हैं। एक आईसीयू में भर्ती मरीज जल्द डिस्चार्ज हो सकता है।

केजरीवाल ने कहा, LNJP अस्पताल में कल एक मरीज को प्लाज्मा दिया गया, उनकी हालत बहुत नाजुक थी। आज सुबह तक उनकी तबियत में काफी अच्छा सुधार हुआ है। जो मरीज ठीक होकर जा रहे हैं उनसे हम प्लाज्मा देने के लिए कह रहे हैं। मुझे बहुत खुशी है कि सभी धर्मों के लोग आगे आकर लोगों की जान बचाना चाहते हैं। जिन लोगों की जान बच गई वो अब कोशिश कर रहे हैं कि दूसरे लोगों की जान बचे।

उन्होंने बताया कि कोरोना लॉकडाउन फिलहाल दिल्ली में 3 मई तक लागू रहेगा बस उन्हीं दुकानों को छूट होगी जिन्हें केंद्र सरकार ने दी है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन आगे बढ़ाने पर फैसला बाद में लिया जाएगा।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE