सिंधिया बोले – कांग्रेसियों को पता ही नहीं, राजीव गांधी ने बाबरी मस्जिद का ताला खुलवाया या नहीं

कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सोमवार को अयोध्या मामले में कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि कांग्रेस खुद नहीं जानती कि उनके नेता ने क्या किया और क्या नहीं।

सोमवार को इंदौर पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि एक तरफ मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ कह रहे हैं, पूर्व पीएम राजीव गांधी ने बाबरी मस्जिद के ताले खोले, दूसरी तरफ शशि थरूर ने कहा कि उन्होंने ताले नहीं खोले। कांग्रेस खुद नहीं जानती कि उनके नेता ने क्या किया और क्या नहीं।

सचिन पायलट के मामले में वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि पायलट मेरे मित्र हैं। उन्होंने जो पीड़ा झेली है, उससे सब लोग वाकिफ हैं। कांग्रेस किस तरह इतने विलंब के बाद अपना घर दुरुस्त करने की कोशिश कर रही है, इस बात से भी सब वाकिफ हैं। उन्होंने कहा, “यह दु:ख की बात है कि कांग्रेस में काबिलियत पर प्रश्न चिन्ह खड़ा किया जाता है। यही स्थिति मेरे पूर्व सहयोगी (पायलट) ने भी झेली है।

कांग्रेस द्वारा उन्हें धोखेबाज़ कहने पर सिंधिया ने कहा कि वे कांग्रेस के सवालों का जवाब नहीं देंगे, बल्कि जनता के सवालों के जवाब देंगे। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस से किसी भी तरह की उम्मीद रखना बेकार है। हालांकि, उन्होंने उम्मीद जताई कि जिन मुद्दों पर कांग्रेस विफल हुई है, एमपी में शिवराज सिंह चौहान की सरकार उन वादों को पूरा करेगी।

हाल ही में राहुल गांधी ने ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’ की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए आरएसएस और भाजपा पर फेसबुक तथा व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हुए मतदाताओं को प्रभावित करने के लिये “फर्जी खबरें” फैलाने का आरोप लगाया था।

इस बारे में सिंधिया ने कहा कि इंटरनेट एक स्वतंत्र माध्यम है। लेकिन जनता का विश्वास खोने वाले लोगों के पास जब कहने को कुछ नहीं होता है, तो इन मुद्दों को पकड़ा जाता है। हालाँकि इसके साथ ही सिंधिया ने कहा कि मैं इस बात का पक्षधर हूं कि फेसबुक, व्हाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया मंचों पर किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कही जाने वाली आपत्तिजनक बातों पर सख्ती से लगाम लगायी जानी चाहिये।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE