मनमोहन सिंह बोले – हिंदी फिल्म प्रेमियों के जेहन में दिलीप कुमार बने रहेंगे ‘शहजादा’ 

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गुरुवार को दिग्गज अभिनेता की पत्नी सायरा बानो को लिखे एक पत्र में कहा कि दिलीप कुमार भारतीय सिनेमा के इतिहास के महानतम अभिनेताओं में से एक थे, जो हिंदी फिल्म प्रेमियों की पीढ़ियों के दिमाग में “राजकुमार” बने रहेंगे।

दिलीप कुमार का बुधवार सुबह मुंबई के एक अस्पताल में निध’न हो गया और शाम को पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्का’र किया गया। वह 98 वर्ष के थे। ‘मुगल-ए-आजम’ और ‘देवदास’ जैसे क्लासिक्स में गहन रोमांटिक भूमिका निभाने वाले अभिनेता परिवार में उनकी पत्नी सायरा बानो को अकेला छोड़ गए हैं।

बानो को लिखे एक पत्र में, पूर्व प्रधान मंत्री सिंह ने कहा, कुमार, “जिन्हें भारतीय सिनेमा के ‘ट्रेजेडी किंग’ और ‘द फर्स्ट खान’ के रूप में प्यार से संदर्भित किया जाता है, को भारतीय सिनेमा में अभिनय तकनीक का एक अलग रूप लाने का श्रेय दिया जाता है। “

उन्होंने कहा, दिलीप कुमार ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार सबसे अधिक बार जीतकर रिकॉर्ड बनाया। “वह (कुमार) भारतीय सिनेमा के एक महानायक थे जो हिंदी सिनेमा प्रेमियों की पीढ़ियों के मन में एक राजकुमार बने रहेंगे। उन्होने कहा, दिलीप कुमार के सबसे अधिक पुरस्कार जीतने का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है।”

पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय सिनेमा के क्षेत्र में कुमार के योगदान को लेकर भारत सरकार ने उन्हें भारत के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया। उन्होंने कहा, “भारतीय सिनेमा में उनके विशिष्ट योगदान को हमारे देश के लोग और दुनिया भर के सभी हिंदी फिल्म प्रेमी हमेशा याद रखेंगे।”

सिंह ने अपने पत्र में कहा, “मेरी पत्नी गुरशरण आपको और आपके परिवार के सभी सदस्यों को इस शोक पर हमारी हार्दिक संवेदना भेजने के लिए मेरे साथ हैं। भगवान आपको इस अपूरणीय क्षति को साहस और धैर्य के साथ सहन करने की शक्ति दे।”