कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद दिल्ली में अब नहीं लगेगा लॉकडाउन

कोरोना वायरस की बेकाबू होती रफ्तार के बीच राष्ट्रीय राजधानी में एक बार फिर लॉकडाउन (Lockdown) लागू किए जाने को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होने साफ कर दिया कि राजधानी में अब लॉकडाउन लागू करने की कोई योजना नहीं है।

उन्होने ट्वीट में कहा है कि दिल्ली में एक बार फिर लॉकडाउन लागू किए जाने को लेकर कई बातें की जा रही हैं। मीडिया और सोशल मीडिया में ये बातें आई हैं कि दिल्ली सरकार एक बार फिर से राजधानी में लॉकडाउन लागू करने की योजना बना रही है। लेकिन मैं सभी लोगों से कहना चाहता हूं कि दिल्ली सरकार ऐसी कोई योजना नहीं बना रही है।

वहीं आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने भी दिल्ली में एक बार फिर से लॉकडाउन की आशंकाओं को खारिज किया है। संजय सिंह ने गृह मंत्री के साथ बैठक के बाद इस बारे में कहा कि दिल्ली में एक बार फिर से लॉकडाउन नहीं लगाया जा सकता।

लॉकडाउन के दौरान मजदूरों और दिहाड़ी कामगारों की परेशानियों का जिक्र करते हुए संजय सिंह ने कहा कि पहले ही इस कारण से लोगों के काम-धंधे रुके हुए हैं। अगर फिर से लॉकडाउन लगाया गया तो बहुत परेशानी होगी। जो लोग कोरोना से बच भी जाएंगे, लॉकडाउन की वजह से उनके सामने भुखमरी की नौबत आ जाएगी।

राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 40 हजार के पार पहुंच गया है और अब तक 1300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 2224 नए मामले दर्ज किए गए हैं और यह आंकड़ा 41182 तक पहुंच गया है। बीते 24 घंटे में 878 मरीज ठीक हुए हैं वहीं, अब तक कुल 15823 मरीज ठीक हो चुके हैं। बीते 24 घंटों में 56 मरीजों की मौत हुई और यह आंकड़ा बढ़कर 1327 हो गया है. दिल्ली में एक्टिव मरीजों की संख्या 24,032 है।

इसके साथ ही गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने लॉकडाउन की अटकलों को लेकर बयान दिया है। मुख्यमंत्री का कहना है कि गुजरात में लॉकडाउन दोबारा नहीं लगाया जा रहा है। बता दें कि गुजरात में पिछले कई दिनों से रोज 500 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। गुजरात में कोरोना वायरस के करीब 24 हजार मामले हैं, जबकि अबतक 1400 के करीब लोगों की मौत हो चुकी है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE