दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल की बिगड़ी तबीयत, खुद को किया आइसोलेट

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बुखार और गले में खराश है। इसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट कर लिया है और मंगलवार को उनका कोरोना वायरस टेस्ट होगा। अरविंद केजरीवाल की सारी मीटिंग्स भी कैंसिल कर दी गई हैं।

अधिकारियों ने बताया, ‘‘ रविवार को दोपहर बाद से ही उन्हें गले में खराश और बुखार की शिकायत महसूस हो रही थी। डाक्टरों की सलाह के अनुसार मुख्यमंत्री मंगलवार की सुबह कोविड -19 जांच कराएंगे।’’ अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री ने रविवार की सुबह कैबिनेट की एक बैठक में भाग लिया था और उसके बाद वह किसी बैठक में शामिल नहीं हुए।

केजरीवाल ने रविवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को भी संबोधित किया था। इसमें उन्होंने दिल्ली की सीमाएं खोलने, अस्पतालों में इलाज समेत कई महत्वपूर्ण ऐलान किए थे। केजरीवाल ने बताया था कि सोमवार से यूपी, हरियाणा से जुड़ी हुईं सभी सीमाओं को खोल दिया जाएगा। इसके अलावा दिल्ली के लोग ही सिर्फ दिल्ली के अस्पतालों में इलाज करा पाएंगे, वहीं देश के अन्य हिस्सों से आने वाले लोग दिल्ली में केंद्र सरकार के अस्पतालों में इलाज करा सकते हैं।

दिल्ली सरकार ने कुछ दस्तावेजों की सूची तैयार की है, जिसके आधार पर आपको दिल्लीवाला मानकर इलाज किया जाएगा। इसमें आधार कार्ड, पासपोर्ट, मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, बैंक पासबुक समेत लगभग वह सभी दस्तावेज शामिल हैं, जो कि बतौर एड्रेस प्रूफ या मतदान के समय मान्य होते है। इसमें बिजली और पानी का बिल भी शामिल है। सभी दस्तावेज दिल्ली के होने चाहिए।

गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 27 हजार 654 है, जिसमें 761 लोगों की मौत हो चुकी है और 10 हजार 664 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं देश कोरोना के मामलों की बात करें तो सोमवार सुबह तक 2 लाख 56 हजार 611 मामले हो चुके हैं, जिसमें 125381 सक्रिय मामले हैं।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE