अनुच्छेद 370 हटाए जाने से देश का नाम खराब हुआ: ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में जम्मू-कश्मीर की सर्वदलीय बैठक के विषय की जानकारी नहीं है।

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा जम्मू-कश्मीर के भविष्य को लेकर आज एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई। जिसमे चार पूर्व मुख्यमंत्रियों सहित 14 नेताओं को आमंत्रित किया गया है। हालांकि बैठक का एजेंडा जारी नहीं किया गया। बैठक में जम्मू-कश्मीर के लिए राज्य के दर्जे पर भी चर्चा हो सकती है।

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा, “मुझे नहीं पता कि पहली बार में राज्य का दर्जा हटाने का क्या कारण था। इसके कारण देश का नाम विश्व स्तर पर कलंकित हुआ।” उन्होंने कहा, “जो कोई भी बीजेपी पर सवाल उठाता है वह देशद्रोही है।”

ममता बनर्जी ने कृषि कानूनों को लेकर भी भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि किसानों की तीन कानूनों को रद्द करने की मांग “बिल्कुल सही” है।

5 अगस्त, 2019 के बाद यह पहली ऐसी राजनीतिक कवायद है, जब केंद्र ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को निरस्त करने का फैसला किया था। बैठक में प्रधानमंत्री के अलावा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शामिल हुए।

बैठक में भाग लेने वाले जम्मू-कश्मीर के चार पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, गुलाम नबी आजाद, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती हैं।