जनरल पनाग का बड़ा दावा – पूर्वी लद्दाख के तीन हिस्सों में घुस आए हैं चीनी सैनिक

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के मध्य चल रहे तनाव के बीच लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) एचएस पनाग ने दावा किया है कि मौजूदा समय में ‘ड्रैगन’ का पलड़ा भारी है और तीन अलग-अलग हिस्सों में चीन के सैनिक अपने देश में कुछ हद तक घुस आए हैं। इतना ही नहीं उन्होने भारत की करीब 40 से 60 स्क्वैयर किमी जमीन पर घुसपैठ कर ली है।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी नेलेफ्टिनेंट जनरल के इस आर्टिकल को ट्वीट करते हुए कहा, ‘सभी देशभक्तों को जनरल पनाग का आर्टिकल जरूर पढ़ना चाहिए।’ उन्होंने अपने ट्वीट में आर्टिकल की एक पंक्ति भी कोट की है- ‘इनकार कोई समाधान नहीं है।’ लेफ्टिनेंट जनरल, सी नॉदर्न कमांड और सेंट्रल कमांड में जीओसी रह चुके हैं। रिटायरमेंट के बाद वह Armed Forces Tribunal के सदस्य रहे हैं।

NBT के अनुसार, जनरल पनाग ने आशंका जताई है कि चूंकि चीन के पास हमारी जमीन है, इसलिए वह विवाद सुलझाने के लिए वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास भारतीय सीमा में आधारभूत ढांचे का निर्माण कार्य रोकने जैसी कठोर शर्त रख सकता है। उन्होंने लिखा, ‘अगर कूटनीति असफल रही तो चीन सीमा पर संघर्ष बढ़ाने या सीमित युद्ध लड़ने तक को तैयार है।’

वो आगे कहते हैं कि भारत को यह बात गांठ बांध लेनी चाहिए कि उसे चीन के मनमानेपन के आगे झुकना नहीं है, भले ही उसकी तरफ से थोपा गया युद्ध ही क्यों नहीं लड़ना पड़े। उन्होंने लिखा, ‘भारत को सुनिश्चित करना चाहिए कि असीमांकित (अन-डीमार्केटेड) एलएसी पर 1 अप्रैल, 2020 तक की यथास्थिति बहाल हो ताकि चीन सामरिक बढ़त हासिल करने या अपनी मर्जी से भारत को अपमानित करने के लिए भविष्य में इस तरह की जबर्दस्ती नहीं कर पाए। अगर यह कूटनीतिक स्तर पर नहीं हो सकता है तो ताकत के जोर पर जरूर किया जाना चाहिए।’

जनरल पनाग का मानना है कि मोदी सरकार और सेना ने हकीकत से मुंह मोड़ लिया है। उन्होंने आगे लिखा, ‘हालांकि, मोदी सरकार और सेना ने स्पष्ट रणनीति बनाने और पूरे देश को इससे अवगत करवाने की जगह यह मानने से ही इनकार कर दिया है कि भारत की जमीन चीनी घुसपैठ हुई है। वो मौजूदा हालात की वजह एलएसी को लेकर दोनों देशों की अलग-अलग धारणा बता रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि भारतीय जमीन पर चीन के जबर्दस्ती कब्जे को एलएसी को लेकर अलग-अलग धारणा का हवाला देना बेहद खतरनाक है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE