मुस्लिमों से सब्जी न खरीदने वाले बयान देने वाले विधायक को बीजेपी ने जारी किया नोटिस

कोरोना संकट के बीच मुस्लिमों से सब्जी न खरीदने का बयान देकर विवादो में आए उत्तर प्रदेश के बरहाज विधानसभा से विधायक सुरेश तिवारी को पार्टी ने ‘कारण बताओ नोटिस’ जारी किया है।

दरअसल, भाजपा विधायक का सोशल मीडिया पर एक विडियो वायरल हुए। वीडियो में वह सरकारी अधिकारियों की मौजूदगी में लोगों से कहते नजर आ रहे हैं, ‘एक बात का ध्यान रखें। मैं सबको खुलकर बता रहा हूं कि किसी को भी मियां (मुस्लिमों) से सब्जियां नहीं खरीदनी चाहिए।’

विधायक के इस बयान पर प्रदेश भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने निंदा की है। उन्होंने कहा कि पार्टी ऐसे किसी बयान का समर्थन नहीं करती है। पार्टी ने इस मामले पर संज्ञान लिया है और तिवारी से सवाल किया कि उन्होंने किन परिस्थितियों में यह टिप्पणी की।सुरेश तिवारी को अब पार्टी की ओर से जारी शो कॉज नोटिस का जवाब देने के लिए एक सप्ताह का वक्त दिया गया है।

इसी बीच अब विपक्ष दल समाजवादी पार्टी ने तो सुरेश तिवारी के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज करने की मांग की है। सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि बीजेपी विधायक ऐसे समय में भी समाज में जहर घोलने का काम कर रहे हैं।  भदौरिया ने ये भी कहा कि ऐसे लोगों पर देशद्रोह का मुकदमा होना चाहिए और उन्हें जेल भेज देना चाहिए।

वहीं कांग्रेस नेता लल्लन सिंह ने बयान जारी करते हुए कहा, ‘राज्य सरकार प्रदेश के गरीबों की मदद करने में असफल रही है। लॉकडाउन की वजह से उनकी जिंदगी बर्बाद हो गई है। वहीं राज्य में कानून व्यवस्था की हालत भी दिन ब दिन खराब हो रही है। बीजेपी विधायक जान-बूझकर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाला बयान देते हैं, जिससे कि लोगों का ध्यान असल मुद्दों से हटाया जा सके. सीएम योगी को अपने विधायक के बयान को संज्ञान में लेते हुए उनके खिलाफ सख्त कदम उठाने चाहिए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE