दिग्विजय सिंह ने उठाया सवाल – सिख श्रद्धालुओं की होगी जमातियों से होगी तुलना, हुई FIR दर्ज

नई दिल्लीः महाराष्‍ट्र के नांदेड़ से लौटे सिख श्रद्धालुओं के कोरोना से संक्रमित पाये जाने के बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाया कि क्या सिख श्रद्धालुओं के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद तबलीगी जमात से इनकी कोई तुलना की जाएगी। इस मामले में अब उन पर शिरोमणि अकाली दल ने पंजाब के चंडीगढ़ के सेक्टर 3 के पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया है।

अकाली दल के नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री रह चुके बिक्रम मजीठिया ने कहा है कि ‘तब्लीगी जमात से सिख श्रद्धालुओं की तुलना करने से हम आहत हैं…इससे सिखों का दिल दुखा है।’ बता दें कि 2 मई को दिग्विजय सिंह ने अपने एक ट्वीट में कहा था कि ‘सिख श्रद्धालु पंजाब में Covid-19 को लेकर ताजा खतरा लगते हैं। तब्लीग मरकज से कोई तुलना?’

इस मामले में दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए सुखबीर सिंह बादल ने लिखा है, ‘मैं श्री हज़ूरसाहिब, नांदेड़ से लौटने वाले सिख तीर्थयात्रियों के साथ एकजुटता से खड़ा हूं। वह हमारे भाई और बहन हैं। कांग्रेस उन्हें कोरोनोवायरस फैलाने के लिए दोषी ठहरा रही है। यह कांग्रेस का पुराना माइंडसेट है। जो हर समस्या के लिए सिखों को ही दोषी ठहराने का प्रयास करती है। जब दुनिया सिखों के निस्वार्थ सेवा भाव के लिए उनकी तारीफ कर रही है तो कांग्रेस इस तरह के ट्वीट कर नफरत फैला रही है।’

ध्यान रहे नांदेड़ स्थित श्री हजूर साहिब से लौटे सिख श्रद्धालुओं में से करीब 795 श्रद्धालु कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। हालांकि दिग्विजय सिंह ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा था कि ‘उनका यह मतलब नहीं है कि कोरोना वायरस को किसी भी धर्म से जोड़ा जाए।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE