मस्जिदों में नमाज को लेकर असदुद्दीन ओवैसी ने की मुस्लिमों से बड़ी अपील

आज से देशभर में धार्मिक स्थल खोले जा रहे है। ऐसे में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मस्जिदों में नमाज को लेकर मुस्लिमों से बड़ी अपील की।

ओवैसी ने कहा कि वो नमाज़ियों अपील करते हैं कि चूंकि यह वायरस कहीं जा नही रहा और सबको इसके साथ जीने की आदत डालनी है, ऐसे में मस्जिद में नमाज को लेकर सबको कुछ नई आदतें डालनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बड़े-बुजुर्गों और किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोगों को अभी घर में ही रहना चाहिए। उन्हें भीड़-भाड़ वाली जगह पर इकट्ठा नहीं होना चाहिए। मस्जिद में नमाज़ पढ़ते वक्त दो नमाज़ियों के बीच में वाजिब दूरी होनी चाहिए। लोगों को घर से ही वज़ू करके जाना चाहिए और अपना जानमाज़ (चटाई जिस पर बैठकर नमाज़ पढ़ी जाती है) घर से लेकर जाइए।

ओवैसी ने मस्जिद कमेटियों से अपील की कि वो मस्जिदों में ऐसी व्यवस्था बनाए रखें कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो।  लोगों को खतरा न हो। उन्होंने कहा कि मस्जिदों में वज़ू करने और शौचालय की सुविधा को बंद रखा जाना चाहिए।

इससे पहले उन्होने धार्मिक स्थल खोले जाने के चलते नए नियम लागू करने का प्रस्ताव दिया था। उन्होंने एक ट्वीट में कहा था, ‘मैं तेलंगाना के मुख्यमंत्री, तेलंगाना डीजीपी और मुख्य सचिव से आग्रह करता हूं कि वो सभी धार्मिक समुदायों के बड़े लोगों के साथ मीटिंग बुलाएं ताकि राज्य के हर धार्मिक स्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग से जुड़े नए नियम बनाए जा सकें।’

बता दें कि महाराष्ट्र-झारखंड-राजस्थान और जम्मू-कश्मीर को छोडकर पुरे देश में शर्तों के साथ धार्मिक स्थल खोल दिये गए है। हर राज्य ने अपनी-अपनी गाइडलाइन जारी की है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE