अमानतुल्लाह खान बोले – ताहिर हुसैन को सिर्फ मुसलमान होने की सज़ा मिली

दिल्ली हिं’सा मामले में दिल्ली क्राइम ब्रांच ने चार्जशीट दाखिल कर दी है। चार्जशीट में आम आदमी के पूर्व नेता और पार्षद ताहिर हुसैन को मास्टरमाइंड बताया है। ताहिर हुसैन समेत 15 लोगों को आरोपी बनाया गया है।

दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में बताया है कि दिल्ली हिं’सा के वक्त आरोपी ताहिर हुसैन अपनी छत पर ही था साथ ही ताहिर हुसैन पर हिंसा कराने का आरोप है, पुलिस का कहना है कि हिं’सा कराने के लिए ताहिर ने एक करोड़ 30 लाख रुपए खर्च किए थे। चार्जशीट के मुताबिक दिल्ली हिं’सा को पहले से ही प्लान किया गया था, जिसमें ताहिर हुसैन ने अलग-अलग लोगों से बात की थी और उसी में तय किया गया था कि देश में जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दिल्ली आएंगे, तब दिल्ली में हिं’सा कराई जाएगी।

इस बीच, आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता और ओखला विधानसभा सीट से विधायक अमानतुल्लाह खान ने ताहिर हुसैन का खुला समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि ताहिर को मुस्लिम होने की वजह से निशाना बनाया जा रहा है।

अमानतुल्लाह खान ने एक ट्वीट कर कहा, “दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में ताहिर हुसैन को दिल्ली दंगों का मास्टरमाइंड बताया है, जबकि समूचा देश जानता है कि दंगों के पीछे कौन था। पुलिस ने असली दंगाइयों के बारे में पता तक नहीं लगाया। मैं समझता हूं कि ताहिर हुसैन को मुस्लिम होने के नाते सजा दी जा रही है।”

इससे पहले अमानतुल्लाह खान ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल को लेकर ट्वीट करते हुए कहा, “LG साहब क्या आपकी दिल्ली पुलिस नहीं जानती है कि दिल्ली के दंगे कराने के लिए बीजेपी के नेता, कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और परवेश वर्मा भी ज़िम्मेदार हैं। तो फिर दिल्ली दंगों में मुसलमानों की ही गिरफ़्तारी क्यों।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE