पश्चिम बंगाल में 7 मुस्लिम विधायकों ने ममता सरकार में ली मंत्री पद की शपथ

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में सात मुस्लिम विधायकों को शामिल किया गया है। उन्होंने सोमवार को राजभवन में आयोजित एक समारोह में अन्य मंत्रियों के साथ शपथ ली।

फिरहाद हकीम, जावेद अहमद खान, गुलाम रब्बानी और सिद्दीकुल्ला चौधरी कैबिनेट सदस्य होंगे। अखरुज्जमां और यास्मीन सबीना राज्य मंत्री (MoS) होंगी। हुमायूँ कबीर स्वतंत्र प्रभार वाले MoS होंगे।

बनर्जी के नेतृत्व वाली अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITC) ने राज्य के विधानसभा चुनाव में 213 सीटें जीतने के बाद अपने लगातार तीसरे कार्यकाल के लिए सत्ता में वापसी की।

वहीं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) एकविरोधी पार्टी के रूप में उभरी। उसने 74 सीटें जीतीं है। अब्बास सिद्दीकी के नेतृत्व वाले भारतीय सेक्युलर मोर्चे ने एक सीट जीती, जबकि असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन राज्य में एक भी सीट जीतने में नाकाम रही।

उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में केवल 42 मुस्लिम उम्मीदवार नवनिर्वाचित विधानसभा में जगह बनाने में कामयाब रहे। जबकि पिछली बार तृणमूल कांग्रेस, कांग्रेस और वाममोर्चा के 59 मुस्लिम विधायक थे। 2011 में भी 59 विधायक चुने गए थे। विजेताओं में 32 टीएमसी, 18 कांग्रेस, 8 वामपंथी और एक एआईएफबी से है।