Home राष्ट्रिय हेट क्राइम में योगी का यूपी फ़र्स्ट तो मोदी का गुजरात सेकंड...

हेट क्राइम में योगी का यूपी फ़र्स्ट तो मोदी का गुजरात सेकंड नंबर पर

128
SHARE

2018 के पहले छह महीने में देश में सबसे ज्यादा हेट क्राइम बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश और गुजरात में सामने आए है। मानवाधिकार वकालत समूह एमनेस्टी इंटरनेशनल के आकड़ों मे ये खुलासा हुआ है।

रिपोर्ट के अनुसार, 2018 के पहले छह महीने में देश में दलितों, आदिवासियों, ट्रांसजेंडरों व धार्मिक अल्पसंख्यक समूहों के सदस्यों के खिलाफ करीब 100 हेट क्राइम हुए हैं। इनमें से सबसे अधिक उत्तर प्रदेश में 18 घटनाएं हुई है। वहीं, दूसरे नंबर पर गुजरात है, जहां 13 घटनाएं हुई है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा राजस्थान में आठ, तमिलनाडू और बिहार में सात-सात घटनाएं हुई है। यानि कि देश में हेट क्राइम के मामले में भाजपा शासित राज्य सबसे आगे है। रिपोर्ट में ये भी बताया गया कि 2015 के सितंबर माह में दादरी कांड के बाद से अबतक हेट क्राइम की 603 घटनाएं सामने आ चुकी है।

रिपोर्ट में बताया गया कि वर्ष 2018 के शुरूआती छह महीनो में दलितों के खिलाफ 67 हेट क्राइम और मुस्लिम के खिलाफ 22 मामले सामने आये हैं। गाय और ऑनर किलिंग से संबंधित मामले हेट क्राइम की मुख्य वजह हैं।

एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया के एक्यूटिव डॉयरेक्टर आकार पटेल का कहना है कि हेट क्राइम दूसरे क्राइम से अलग होते हैं क्योंकि इसके पीछे भेदभावपूर्व उद्देशय निहित होता है। हालांकि, कुछ उदाहरण को छोड़ दें तो कानून हेट क्राइम को अन्य अपराधों से अलग नहीं मानता है। पुलिस को चाहिए कि वह अपराध की जांच करते समय उनके पीछे की वजहों को सामने लाए।

Loading...