रोजी-रोटी के लिए अब फिर से शुरू हुआ पलायन, बिहार से पंजाब ले जाए जा रहे श्रमिक

कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए लागू किए गया लॉक डाउन मजदूर वर्ग के लिए बड़ी आफत बनकर सामने आया। पहले भूख और रोजगार के जाने से इन मजदूरों का पलायन हुआ था। अब एक बार फिर से रोजी-रोटी के लिए मजदूरों का पलायन शुरू हुआ है।

एनडीटीवी के अनुसार, बिहार लौटे मजदूर एक बार फिर रोजी-रोटी कमाने के लिए पंजाब (Punjab) जा रहे हैं। अंधेरे में मजदूरों को बिहार से पंजाब ले जाया जा रहा है। इसके लिए पंजाब से बसें लाई गई हैं। बिहार के समस्तीपुर में मजदूरों के पलायन का एक वीडियो सामने आया है।

पलायन को लेकर मजदूरों का कहना है कि अगर वो कमाएंगे नहीं तो खाएंगे क्या। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) दावा कर रहे हैं कि राज्य लौटे मजदूरों को काम दिया जाएगा लेकिन पलायन रुक नहीं रहा है।

पंजाब जाने वाले एक मजदूर ने कहा, ‘पंजाब में भी लॉकडाउन है। हम तो गरीब लोग हैं। कमाएंगे नहीं तो खाएंगे कैसे, इसलिए हम सब लोग जा रहे हैं।’ मजदूरों को ले जा रही एक बस के ड्राइवर ने कहा कि वह लोग लेबर लेने के लिए पंजाब से आए हैं। पंजाब में ये मजदूर धान लगाएंगे और खेतों का अन्य काम करते हैं। वह लोग सहरसा से भी मजदूरों को लेकर आ रहे हैं।

बता दें कि लॉकडाउन लागू होने के करीब डेढ़ महीने बाद केंद्र सरकार ने श्रमिकों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाकर लाखों लोगों को उनके गृहराज्य छोड़ा था। इसके अलावा स्थानीय लोगों और संगठनों ने भी भेजने में मदद की थी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE