जैन मुनि के स्वागत में उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां, सैकड़ों लोगों की जुटी भीड़

मध्य प्रदेश के सागर जिले में जैन मुनि के स्वागत में न केवल लॉकडाउन की धज्जियां उड़ी बल्कि सोशल डिस्टेन्सिंग का भी ख्याल नहीं रखा गया। सैकड़ों की तादाद में जैन धर्म के लोग अपने धर्मगुरु के स्वागत में सड़कों पर निकल आए।

जनसत्ता की रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार (12-05-2020) को सागर जिले के बांदा में जैन मुनि प्रमाणसागर पहुंचे थे। प्रमाणसागर के आने की सूचना उनके शिष्यों और अनुयायियों को मिली तो वो उनके स्वागत के लिए अपने घऱों से निकल गए। देखते ही देखते सड़क पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई। इस भीड़ की जो तस्वीरें सामने आई हैं उनमें नजर आ रहा है कि जैन मुनि के स्वागत में जुटी भीड़ में सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन नहीं किया गया है। कुछ लोग बिना मास्क के भी नजर आ रहे हैं।

इन तस्वीरों के सामने आने के बाद अब यहां प्रशासन ने कार्रवाई की बात कही है। सागर जिले के ASP प्रवीण भूरिया ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि ‘इस मामले में जांच के आदेश दे दिये गये हैं। अगर धारा 144 और सोशल डिस्टेन्सिंग समेत अन्य नियमों का उल्लंघन हुआ है तो आयोजनकर्ताओं पर कार्रवाई की जाएगी।’

प्रमाणसागर, संत आचार्य विद्यासागर जी के परम शिष्य माने जाते हैं। मुनि प्रमाणसागर ने धर्मबचाओ आंदोलन में हिस्सा लिया था और हाईकोर्ट द्वारा ‘सल्लेखना’ (एक प्रकार का धार्मिक रिवाज) पर प्रतिबंध लगाए जाने का विरोध किया था। जब सुप्रीम कोर्ट ने इस बैन पर स्टे लगा दिया था तब मुनि प्रमाणसागर के आह्वान पर उनके करीब 1 करोड़ अनुयायी कोर्ट के इस फैसले का सम्मान करने के लिए जमा हुए थे।

बता दें कि मध्य प्रदेश में भी खतरनाक कोरोना वायरस का कहर देखने को मिला है। यहां संक्रमितों का आंकड़ा 3900 से भी ज्यादा पहुंच चुका है। जबकि इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 220 से भी ज्यादा है। संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए राज्य की मौजूदा शिवराज सिंह चौहान सरकार ने आम जनता से अपील की है कि वो लॉकडाउन का सख्ती से पालन करें।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE