No menu items!
31.1 C
New Delhi
Friday, September 17, 2021

वसीम रिजवी का विवादित बयान – ‘तैयार कर लिया नया कुरान, मदरसों में पढ़ाया जाए’

- Advertisement -

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी इस्लाम धर्म की सबसे पवित्र किताब कुरान को लेकर एक के बाद एक विवादित बयान दिये जा रहे है। अब उन्होने नया कुरान तैयार करने का दावा किया है। इससे पहले भी कुरान की आयतों को लेकर सवाल उठा चुके है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में उन्होने कहा कि कुरान में दर्ज 26 आयातें आतं’कवा’द को बढ़ावा देने वाली हैं।  ये कथन अल्लाह के नहीं हो सकते, लिहाजा इसे मदरसों में पढ़ाए जाने पर प्रतिबंध लगाया जाए। उन्होंने आगे लिखा कि इन कुरान की आयतों के कारण मुस्लिम समाज में आतं’की विचारधारा पैदा हो रही है यही कारण है कि पूरे विश्व में मुस्लिम आतं’कवा’द चरम सीमा पर है।

रिजवी ने कहा, गहन अध्ययन के बाद मेरे द्वारा पूर्व में लिखे गए व लिखवाए गए कुरान ए मजीद के सूरोह को सही क्रम में लगाया गया है और आतं’कवा’द को बढ़ावा देने वाली 26 आयतों को कुरान ए मजीद से हटा दिया गया है। वसीम रिजवी ने कहा कि उन्होने कुरान का एक मॉडल पीएम मोदी को भी भेजा है।

उन्होने कहा, 26 आयतों के बिना यह कुरान बाजार में जल्द ही मिलेगा। रिजवी के इस बयान पर ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव यासूब अब्बास ने कहा कि कुरान-ए-पाक अल्लाह की किताब है और कयामत तक यह एक ही रहेगी। जो इस कुरान-ए-पाक को मिटाने और बदलने की कोशिश करेगा, वो खुद ही मिट जाएगा।

उन्होंने कहा, शैतान कभी मजहब के दीन में तब्दीली नहीं कर सकता. 1 लाख 24 हजार नबी और 12 इमाम आए और शैता’न विघ्न डालता रहा पर मजहब में तब्दीली नहीं कर सका। वही काम आज वसीम रिजवी कर रहा है और लोगों का दिमाग को डायवर्ट कर रहा है।

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article