कोरोना संदिग्ध बुजुर्ग पिता की ला’श के साथ युवक का Video वायरल, आरोप – 5 घंटे तक लगाए फोन लेकिन कोई नहीं आया

दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल की और से कोरोना के इलाज को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे है। लेकिन हकीकत एक Video ने खोलकर रख दी है। जिसमे एक कोरोना संदिग्ध बुजुर्ग पिता की लाश लेकर युवक आरोप लगा रहे है कि 5 घंटे तक फोन करने के बावजूद उसके पिता के इलाज के लिए कोई आगे नहीं आया।

जनसत्ता के मुताबिक, यह मामला पूर्वी दिल्ली के शकरपुर का है। वहां शनिवार सुबह 80 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई, जो कोरोना संदिग्ध थे। बताया जा रहा है कि उनके बेटे को कोराना संक्रमण है। वह सुबह से प्रशासन के अधिकारियों से बात करने की कोशिश कर रहे थे, पर फिर भी कोई पिता का श’व लेने कोई आया।

युवक ने अपनी पहचान बताते हुए कहा, मैं अनुपम त्रिपाठी हूं। सुबह साढ़े सात बजे पिता की मौ’त हुई थी। 12 बज चुके हैं, पर स्वास्थ्य कर्मचारी या और कोई मदद के लिए नहीं आया।

दूसरी और अब दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने ऐलान किया कि दिल्ली में मौजूद दिल्ली सरकार के सरकारी हॉस्पिटल और प्राइवेट हॉस्पिटलों में सिर्फ दिल्ली के लोगों का इलाज (arvind kejriwal on corona Treatment) होगा। वहीं केंद्र सरकार के हॉस्पिटल सभी के लिए खुले होंगे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली सरकार के अंतर्गत आनेवाले हॉस्पिटल और दिल्ली के प्राइवेट हॉस्पिटलों में सिर्फ दिल्ली के लोगों का इलाज होगा। वहीं केंद्र सरकार के हॉस्पिटल जैसे एम्स, सफरदरजंग और राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) में सभी लोगों का इलाज हो सकेगा, जैसा अबतक होता भी आया है। हालांकि, कुछ प्राइवेट हॉस्पिटल जो स्पेशल सर्जरी करते हैं जो कहीं और नहीं होती उनको करवाने देशभर से कोई भी दिल्ली आ सकता है, उसे रोक नहीं होगी।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE