भड़काऊ भाषण देने के मामले में यूपी STF ने डॉक्टर कफील को मुंबई से किया गिरफ्तार

मुंबई: उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (UPSTF) ने गोरखपुर के डॉक्टर कफील खान (Dr Kafeel Khan) को मुंबई से गिरफ्तार किया है। उन पर अलीगढ़ में दिए गए भड़काऊ भाषण देने का आरोप है।

डॉक्टर कफील खान ने 12 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ये भाषण दिया था। खान के ऊपर आईपीसी की धारा 153-ए के तहत सिविल लाइन्स पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई थी।

उनके खिलाफ दर्ज शिकायत में कहा गया था कि छात्रों को संबोधित करने के दौरान खान ने बिना नाम लिए कहा कि ‘मोटाभाई’ सबको हिंदू या मुस्लिम बनना सिखा रहे हैं लेकिन इंसान बनना नहीं। उन्होंने आगे कहा कि जब से आरएसएस का अस्तित्व हुआ है, उन्हें संविधान में भरोसा नहीं रह गया।

खान ने कहा कि CAA मुस्लिमों को सेकंड क्लास सिटिजन बनाता है और एनआरसी लागू होने के साथ ही लोगों को परेशान किया जाएगा। खान ने आगे कहा था, ‘यह लड़ाई हमारे अस्तित्व की लड़ाई है। हमें लड़ना होगा।’ उन्होंने यह भी कहा कि आरएसएस के स्कूलों में बच्चों को बताया जाता है कि दाढ़ी रखने वाले लोग आतंकवादी होते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि CAA लाकर सरकार यह दिखाना चाहती है कि भारत एक देश नहीं है।

बता दें कि कफील खान गुरुवार को मुंबई स्थित ‘मुंबई बाग’ में हो रहे प्रदर्शन में शामिल होने के लिए वहां गए थे। ‘मुंबई बाग’ में CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहीं महिलाएं अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर हैं। कफील खान को आज (गुरुवार) 11 बजे प्रदर्शन स्थल पर जाना था लेकिन इससे पहले ही UPSTF ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE