दिल्ली हिंसा: UN महासचिव ने जताई चिंता, USCIRF ने कहा – मोदी सरकार करें मुस्लिमों की सुरक्षा

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस नई दिल्ली पर नजर बनाए हुए हैं जहां नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसा चल रही है। इस हिं’सा में अब तक18 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 200 लोग घाय’ल है।

उनके प्रवक्ता स्टीफन डुजारिक ने अपनी डेली ब्रीफिंग में एक सवाल के जवाब में कहा कि “लोगों को शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने की अनुमति दी जानी चाहिए और सुरक्षा बल संयम बरते। यह महासचिव का हमेशा से रुख रहा है।” उन्होंने कहा, “हम निश्चित ही स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।” हेड कांस्टेबल रतन लाल के मा’रे जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “लोगों को शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन करने की जरूरत है।”

वहीं अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर नजर रखने वाली एजेंसी यूनाइटेड स्टेट कमीशन ऑन इंटरनेशनल रिलीजियस फ्रीडम (USCIRF) ने मोदी सरकार से मुस्लिमों को सुरक्षा करने की अपील करते हुए कहा कि नई दिल्ली में मुस्लिमों सहित अन्य अल्पसंख्यकों की रक्षा की जाए।

बता दें कि ट्रंप के दौरे से पहले भी इस संस्था नेनागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को मुसलमानों के लिए भेदभावपूर्ण और पक्षपाती करार दिया। आयोग की नागरिकता कानून पर ‘फैक्टशीट’ नाम से जारी रिपोर्ट में आयोग ने कहा, “नागिरक पंजीयन (NRC) से सिर्फ मुसलमान प्रभावित होंगे जबकि गैर मुस्लिमों को नागरिकता कानून (CAA) के तहत सुरक्षा प्रदान कर दी जाएगी।”


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE