यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों को फाइनल ईयर के एग्‍जाम कराने का दिया निर्देश

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने कोरोना वायरस के मद्देनजर विश्वविद्यालयों के लिए परीक्षाओं और अकादमिक कैलेंडर में बदलाव कर दिशानिर्देश जारी किए हैं। यूजीसी द्वारा जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक, परीक्षाएं सितंबर अंत तक आयोजित कराई जा सकती है। संस्थानों को ऑनलाइन माध्यमों से भी परीक्षाएं आयोजित करने की स्वतंत्रता होगी।

यूजीसी की ओर से जारी संशोधित दिशा-निर्देशों के मुताबिक, अंतिम वर्ष की परीक्षाएं दे पाने में असमर्थ छात्रों को सितंबर में एक और मौका मिलेगा और विश्वविद्यालय ‘जब उचित होगा तब’ विशेष परीक्षाएं आयोजित करेंगे। मंत्रालय का यह निर्णय केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से हरी झंडी दिए जाने के बाद आया है।

गृह मंत्रालय ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा तय मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के तहत परीक्षाएं आयोजित करने की मंजूरी दी थी। इस घोषणा के बाद कोविड-19 हालात के मद्देनजर अंतिम वर्ष की परीक्षाएं रद्द होने की अटकलों पर विराम लग गया है।

यूजीसी के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, ‘ विश्वविद्यालय अथवा संस्थान द्वारा अंतिम वर्ष की परीक्षाएं ऑनलाइन, ऑफलाइन या दोनों माध्यमों से सितंबर अंत तक आयोजित की जाएंगी।’ हालांकि विश्वविद्यालयों ने 2020 तक विश्वविद्यालय परीक्षा रद्द करने के आदेश जारी किए।

तेलंगाना, राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र सहित कई राज्य सरकारों ने इस साल विश्वविद्यालय की परीक्षा आयोजित न करने के आदेश जारी किए हैं। हालांकि, सभी संस्थान यूजीसी द्वारा अंतिम आदेश पारित किए जाने का इंतजार कर रहे थे।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE