गणेश उत्सव और ईद उल अज़हा पर उद्धव सरकार ने धार्मिक सभा पर लगाई रोक

गणेश उत्सव और ईद उल अज़हा के त्यौहार नजदीक ही है। दूसरी और कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है। ऐसे में महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने किसी भी तरह की सामाजिक और राजनीतिक सभाओं पर रोक लगा दी।

ठाकरे ने एक आनलाइन बैठक में जिलाधिकारियों और नगरपालिका आयुक्तों को संबोधित करते हुए कोविड-19 के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए राज्य में अन्य जगहों पर धारावी मॉडल दोहराने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, ‘‘यह सुनिश्चित करने के लिए ध्यान रखा जाना चाहिए कि नए निषिद्ध क्षेत्र नहीं बनें।’’

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने धारावी में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए किए गए प्रयासों की हाल में प्रशंसा की थी। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से यह भी सुनिश्चित करने के लिए कहा कि हर जिले में संस्थागत पृथक केंद्रों पर पर्याप्त सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं।

उन्होंने महात्मा ज्योतिबा फुले जन आरोग्य योजना के कार्यान्वयन और अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता की निगरानी करने का आह्वान किया। वर्तमान में राज्य में 540 मरीज वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। प्रत्येक जिले में अब एक नोडल जांच अधिकारी होगा।

सरकार ने नमूना एकत्रित करने के साथ-साथ रैपिड एंटीजन जांच बढ़ाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर प्लाज्मा दानदाता को 2,000 रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे लोगों में जागरूकता उत्पन्न करें।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE