मध्य प्रदेश में संतरे के बाग में कोरोना मरीजों का इलाज, डर से लोगों ने अस्पताल जाना छोड़ा

0
275

मध्य प्रदेश के आगर जिले में कोरोना मरीजों ने डर से अस्पताल ही जाना छोड़ दिया और झोलाझाप डॉक्टर से इलाज करा रहे है। डॉक्टर ने भी संतरे के बाग में ही मरीजों को लिटाकर इलाज कर शुरू कर दिया।

जिले के सुसनेर करीब मुख्य सड़क के पास ही मरीजों का इलाज किया जा रहा। पेड़ों पर ही सलाइन लटका दी गई। आसपास के करीब 10 गांवों के लोग यहां इलाज कराने आ रहे है। दरअसल, ग्रामीणो को डर है कि अस्पताल गए तो सर्दी बुखार वाले लोगों को वहां कोरोना वार्ड में भर्ती कर देंगे।

विज्ञापन

बताया जा रहा है कि सुसेनर के ग्रामीण इलाकों में ज्यादातर जगहों पर ऐसे ही हालात हैं। इलाज के दौरान मरीजों के चेहरे पर कोई मास्क भी नहीं है। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नहीं किया जा रहा है। मामला संज्ञान में आते ही प्रशासन ने इन झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई करने की बात कही है।

मीडिया से बात करते हुए सुसनेर बीएमओ ने कहा कि इन झोलाछाप डॉक्टरों को पहले चेतावनी दी है, लेकिन वह नहीं मान रहे हैं, अब इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बुधवार को अधिकारियों ने इन डॉक्टरों पर कार्रवाई की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here