Home राष्ट्रिय RSS-BJP के इशारे पर हुआ था हमला, जिंदा रहने की उम्‍मीद छोड़...

RSS-BJP के इशारे पर हुआ था हमला, जिंदा रहने की उम्‍मीद छोड़ दी थी: स्‍वामी अग्‍निवेश

2718
SHARE

झारखंड के पाकुड़ में बीजेपी कार्यकर्ताओं के हमले के बाद स्वामी अग्निवेश ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ये हमला RSS और BJP के इशारे पर हुआ था। पुलिस प्रशासन यदि मुझे जरा भी सुरक्षा देती तो मुझ पर हमला नहीं होता।

उन्होंने कहा कि 100-150 लोगों की भीड़ ने मुझपर हमला किया था। वो एक हत्या करने वाली भीड़ थी और वो भीड़ कोई अनजाना चेहरा नहीं थी बल्कि इस भीड़ को राज्य और केंद्र सरकार के किसी व्यक्ति द्वारा प्रायोजित और समर्थित किया गया था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

स्वामी ने कहा कि 100-150 लोगों की भीड़ मेरे पास आई। किसी ने मेरी बात नहीं सुनी और मुझे मारने-पीटने लगे। मेरे कपड़े फाड़ने लगे, ढाई फुट गहरे गड्ढे में गिराकर पीटा गया। स्वामी अग्निवेश ने आगे बताया कि करीब 1-2 मिनट तक लोग उन्हें लगातार पीटते रहे और उस वक्त उन्होंने जिंदा बचने की उम्मीद भी छोड़ दी थी। स्वामी ने कहा कि सारा खेल नरेंद्र मोदी और अमित शाह खेल रहे हैं। वो देश की जनता को बेवकूफ बना रहे हैं। 2019 के चुनाव में और बवाल होगा। हमलोग कीड़े-मकोड़े की तरह मारे जाएंगे।

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर उन्होंने कहा, ‘पहलू खान की हत्या जहां हुई थी, उसी जगह पर अकबर खान की हत्या कर दी, 28 साल के युवक को मार दिया। उसके बच्चों की तस्वीर देखी है, मैं सोच रहा हूं कि कैसे उन बच्चों के बाप को तुम लोग मार सकते हो। ये सब हो रहा है और नरेंद्र मोदी चुप हैं, शरम नहीं आती उनको। दुनियाभर के भाषण झाड़ते हैं, सबसे ज्यादा बोलते हैं और अलग-अलग तरीके से अपना मन की बात अलग है तो मीडिया में अलग…. वो इस मुद्दे पर बोल क्यों नहीं रहे? और अगर बोल रहे हैं तो जवाब क्यों नहीं देते।

उन्होने कहा, आज से तीन साल पहले अखलाक को केवल शक के आधार पर उसकी पत्नी और बच्चों के सामने पीट-पीटकर मार डाला। बाद में कहने लगे कि हम उस मांस की जांच कराएंगे। जुमलेबाज प्रधानमंत्री हैं, भारत का दुर्भाग्य है और इस सबको ये हिंदुत्व के नाम पर ढो रहे हैं।’

बता दें कि स्वामी अग्निवेश 17 जुलाई को लिट्टीपारा में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए झारखंड के पाकुड़ पहुंचे थे। लेकिन कार्यक्रम स्थल से बाहर आते ही भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) और एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने उनपर हमला बोल दिया और उनकी पिटाई कर दी। उन्होंने अग्निवेश के कपड़े भी फाड़ दिए थे।

Loading...