भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर फंसे बड़ी मुसीबत में, महिला आयोग ने दिया पुलिस कार्रवाई का आदेश

तीन साल पहले पुराने ट्वीट को लेकर भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद बड़ी परेशानी में फंस गए है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने महिलाओं पर किए गए निंदनीय ट्वीट का संज्ञान लेते हुए चंद्रशेखर आजाद पर पुलिस कार्रवाई का आदेश दिया है।

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद के ट्विटर हैंडल से किए गए अभद्र ट्वीट मामले में राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने उत्तर प्रदेश पुलिस के DGP एचसी अवस्थी को लिखे पत्र में चंद्रशेखर पर कड़ी कार्रवाई करने का अनुरोध किया है। साथ ही पूरे प्रकरण पर ब्यौरा भी तलब किया है।

चंद्रशेखर आजाद पर जिन महिलाओं के खिलाफ ट्वीट्स में अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप है उनमें काजल नाम की एक लड़की भी शामिल है। काजल को पीएम नरेंद्र मोदी भी ट्विटर पर फॉलो करते हैं।

काजल ने ट्वीट कर लिखा, ‘हम दिल से रेखा शर्मा जी और टीम एनसीडब्ल्यू के आभारी है की आपने भीम आर्मी चीफ द्वारा हम पर कही गई अभद्र अश्लील टिप्पणी पर संज्ञान लिया।’ हालांकि आज़ाद ने ट्वीट कर अपना पक्ष रखा है और खुद का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि वो महिलाओं का बहुत सम्मान करते हैं।

एक ट्वीट के जवाब में बृहस्पतिवार रात रेखा शर्मा ने ट्वीट कर लिखा, ‘एक महान हीरो (चंद्रशेखर आज़ाद) का नाम खराब करने वाले इस आदमी को मैं सबक सिखाउंगी।’ वहीं एनसीडब्ल्यू के हैंडल से शुक्रवार दोपहर को किए गए ट्वीट में लिखा है, ‘भीम आर्मी चीफ द्वारा महिलाओं को नीचा दिखाने वाले ट्वीट्स का एनसीडब्ल्यू ने संज्ञान लिया है। एनसीडब्ल्यू के प्रमुख रेखा शर्मा ने यूपी के डीजीपी को आज़ाद के ख़िलाफ कठोर कर्रवाई करने को कहा है ताकि महिलाओं के ख़िलाफ साइबर अपराध को समाप्त किया जा सके।’

इस मामले को लेकर गुरुवार को ही चंद्रशेखर ने अपनी सफाई भी दी थी। उन्होंने कहा, ‘मेरे एकाउंट से महिलाओं पर अभद्र भाषा के कुछ ट्वीट वायरल हो रहे हैं, जो कि बहुत निंदनीय है। ज्ञात हो कि सहारनपुर हिंसा के संदर्भ में मैं 08/06/2017 से 14/09/2018 तक जेल में था। विवादित ट्वीट इसी दौरान के हैं जिस संबंध में मुझे जानकारी नही है। मैं महिलाओं का बहुत सम्मान करता हूं।’


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE