आंधी-तूफान ने ताजमहल को पहुंचाया नुकसान, रेलिंग टूटकर हुई क्षतिग्रस्त

आगरा में आंधी-तूफान की वजह से विश्वप्रसिद्ध ताजमहल की इमारत क्षतिग्रस्त हो गई। शुक्रवार की रात को आई आंधी-तूफान में ताजमहल की मार्बल रेलिंग टूकर गिर गई और उसकी जालियां भीं गिर गईं।

ताजमहल को पहुंची क्षति का आकलन करने के लिए पहुंचे एएसआई की महानिदेशक वी. विद्यावथी ने बताया कि ‘आंधी से ताजमहल में संगमरमर की जालियां और लाल पत्थर की जालियां क्षतिग्रस्त हुई हैं। परिसर में पेड़ उखड़ गए हैं वहीं एक दरवाजा भी उखड़ गया है।’ विद्यावथी ने जल्द से जल्द ताजमहल को पहुंची क्षति को ठीक करने के निर्देश दिए हैं।

वहीं भारतीय पुरातत्व विभाग के अधीक्षण पुरातत्वविद् डॉ.बसंत स्वर्णकार ने बताया, ‘ताजमहल परिसर में पर्यटकों की सुविधा के लिए बनाई गई शेड की फॉल्स सीलिंग उखड़ गई है। ताजमहल के अलावा महताब बाग की दीवार पर पेड़ गिर गया है तो वहीं मरियम के मकबरे में भी पेड़ गिरा है। वैसे मुख्य मुकबरे को क्षति होने की कोई खबर नहीं है।

इससे पहले 2018 में 11 अप्रैल और दो मई को आंधी से ताजमहल का शाही दरवाजा, दक्षिणी दरवाजा के उत्तर पश्चिम गुलदस्ता स्तंभ टूटकर गिर गये थे। उस वक्त आंधी में सरहिंदी बेगम, फतेहपुरी बेगम के मकबरों में भी गुलदस्ता स्तंभ गिरे थे।

गौरतलब है कि लॉकडाउन की वजह से ताजमहल पिछले 68 दिन से बंद है। यह पहला मौका है जब ताजमहल इतने लंबे समय तक बंद रखा गया है।


    देश के अच्छे तथा सभ्य परिवारों में रिश्ता देखें - Register FREE